पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57491.51-2.62 %
  • NIFTY17149.1-2.66 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486500.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)64467-0.29 %

जिया के जज्बे को सम्मानित करेगी यूपी सरकार:तैराकी में 3 वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुकी हैं; आजमगढ़ की बेटी हैं दिव्यांग बच्चों की रोल मॉडल

आजमगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आजमगढ़ की बेटी जिया राय को यूपी सरकार ने दिव्यांग बच्चों के रोल मॉडल के रूप में चुना है। 3 दिसंबर को दिव्यांग दिवस के मौके पर उसे लखनऊ में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सम्मानित करेंगे। इसमें उसे 25 हजार रुपए और मेडल दिया जाएगा। जिया अब तक 22 गोल्ड व 1 सिल्वर मेडल जीत चुकी है।

जिया सगड़ी क्षेत्र के अलीमुद्दीनपुर गांव की रहने वाली है। हालांकि, वह परिवार के साथ मुंबई के कोलाबा में रहती है। उसके पिता मदन राय इंडियन नेवी में अफसर हैं। दैनिक भास्कर से बात करते हुए मदन राय ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी है, 'अब तक मेरी बेटी 22 गोल्ड और 1 सिल्वर मेडल जीत चुकी है। इससे दूसरी लड़कियों को सीखने और आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी'। जिया की मां रचना राय मुंबई के डिफेंस कॉलेज में टीचर हैं। उसका एक छोटा भाई वैभव राय 9 साल का है।

जिया के पिता मदन राय ने कहा कि अब तक उनकी बेटी 22 गोल्ड और 1 सिल्वर मेडल जीत चुकी है। इससे दूसरी लड़कियों को आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी।
जिया के पिता मदन राय ने कहा कि अब तक उनकी बेटी 22 गोल्ड और 1 सिल्वर मेडल जीत चुकी है। इससे दूसरी लड़कियों को आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी।

ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर का शिकार है जिया
मुंबई के नेवल इंटरमीडिएट स्कूल की कक्षा 8 की छात्र जिया राय (12 ) ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर डिले इन स्पीच की शिकार है। यह एक दिमागी बीमारी है। इसमें मरीज न तो अपनी बात ठीक से कह पाता है, न ही दूसरों की बात समझ पाता है। न बात कर सकता है। यह एक डेवलपमेंटल डिसेबिलिटी है। इसके लक्षण बचपन से ही नजर आ जाते हैं। हालांकि, दिव्यांग जिया को बचपन से ही तैराकी में रुचि थी। उसकी लगन और मेहनत का ही नतीजा है कि आज उसके नाम 3 वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं।

जिया राय ने बनाए कई रिकॉर्ड

  • 15 फरवरी, 2020 को एलिफेंटा से गेटवे ऑफ इंडिया की 14 किलोमीटर की दूरी 3 घंटे 27 मिनट 30 सेकंड में पूरी कर विश्व रिकॉर्ड बनाया।
  • 5 जनवरी, 2021 को अरनाला किला से वसई किला तक 22 किलोमीटर की दूरी 7 घंटे 4 मिनट में तैरकर पूरी की। यह आज तक कोई महिला तैराक नहीं कर पाई थी।
  • 7 फरवरी, 2021 को वर्ली स्विमिंग से गेटवे ऑफ इंडिया तक 36 किलोमीटर की दूरी 8 घंटे 40 मिनट में तय की, जो वर्ल्ड रिकॉर्ड है।
  • 5 जनवरी, 2019 को समुद्री तैराकी में 5 किलोमीटर की प्रतियोगिता 10 साल 7 महीने की उम्र में जीत गई थी। यह नेशनल रिकॉर्ड है। इसमें 40 खिलाड़ियों ने भाग लिया था।
  • 11 -12 जनवरी, 2020 को अखिल नेशनल तैराकी प्रतियोगिता में 5 और 1 किलोमीटर दोनों में गोल्ड मेडल जीतने वाली इंडिया की पहली पैरा-तैराक बनी थी।
खबरें और भी हैं...