पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आजमगढ़...पत्नी को फंसाने के लिए पति ने चली फरेबी चाल:खुद की कराई हत्या, दो माह बाद हुआ गिरफ्तार, अज्ञात शव की गुत्थी उलझी

आजमगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जिले में फरेबी पति ने पत्नी को फंसाने के लिए रचा हत्या का नाटक, पीड़िता ने की SP अनुराग आर्य से शिकायत, आरोपी पति गिरफ्तार। - Money Bhaskar
आजमगढ़ जिले में फरेबी पति ने पत्नी को फंसाने के लिए रचा हत्या का नाटक, पीड़िता ने की SP अनुराग आर्य से शिकायत, आरोपी पति गिरफ्तार।

आजमगढ़ जिले के एक फरेबी पति ने अपनी पत्नी व ग्राम प्रधान को हत्या के मामले में फंसाने के लिए अपनी हत्या का नाटक रच डाला। जिले में पानी भरे गड्‌ढे में एक अज्ञात शव के खुद के होने की मुख्य आरोपित पति ने परिजनों से इस बात की तस्दीक कराई और स्वयं लापता हो गया। इस मामले में पति की बहन ने अपनी भाभी के खिलाफ थाने में तहरीर भी दे दी। इस बात की जानकारी होते ही पत्नी के होश उड़ गए। दो माह के प्रयास के बाद आखिरकार पति जिंदा खोज निकाला गया जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज रही है।

पत्नी ने SP को ज्ञापन देकर लगाई न्याय की गुहार
जिले के रानी की सराय थाना क्षेत्र की रहने वाली पीड़िता सुमन ने SP अनुराग आर्य को ज्ञापन देकर शिकायत की। इस शिकायत में सुमन ने आरोप लगाया कि पति और उसके परिवार द्वारा हत्या किए जाने का आरोप लगा स्थानीय से लेकर ऊपर के अधिकारियों पर शिकायती पत्र भेजकर उसे झूठे आरोपों में फंसाने की कोशिश की जा रही है। सुमन के अनुसार उसका पति शराबी व अपराधी किस्म का है। आए दिन उसे मारता पीटता और पैसे वसूलता है। सुमन ने बताया कि पति को ससुराल के लोगों द्वारा साजिश करके मेरे लड़के और मेरी लड़की के साथ ग्राम प्रधान मोहम्मद जाहिद के खिलाफ आरोप लगवाया कि पति सतीश की हत्या कर मोहम्मदपुर मंगई नदी में फेंक दिया है।

गंभीरपुर पुलिस ने की फंसाने की कोशिश
पीड़िता सुमन का कहना हैकि गंभीरपुर पुलिस द्वारा अज्ञात व्यक्ति की लाश की फोटोग्राफी भी कराई गई व उसकी झूठी पहचान करा हम लोगों को फंसाने की कोशिश कर रहे हैं। स्थानीय थाने पर सुनवाई ना होने पर SP से न्याय की गुहार लगाई। पीड़िता के साथ आए ग्राम प्रधान मोहम्मद जाहिद ने बताया कि जिसकी हत्या का आरोप लगाया जा रहा है। उसे हम लोगों ने पकड़ के स्थानीय पुलिस को दे दिया है। आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है।