पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अखिलेश का भाजपा पर बड़ा आरोप:आजमगढ़ में बोले- ज्ञानवापी के पीछे भाजपा के अदृश्य मित्र, वन नेशन-वन उद्योगपति नीति पर काम कर रही सरकार

आजमगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आजमगढ़ पहुंचे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, 'भाजपा जान-बूझकर ज्ञानवापी की तरह के कार्यक्रम करती है। इस तरह के मामले में या तो भाजपा होती है या उसके अदृश्य मित्र। ज्ञानवापी मसले को जानबूझकर उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा, 'भाजपा नारा देती है कि एक देश में एक ही राशन कार्ड हो। कहीं ऐसा तो नहीं कि वह ज्ञानवापी जैसी घटनाओं को आगे कर ‘वन नेशन वन उद्योगपति’ की नीति पर काम कर रही हो।'

महंगाई और बेरोजगारी पर कोई बोल नहीं रहा
उन्होंने कहा, 'भाजपा बुनियादी सवालों के जवाब नहीं देना चाहती। महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। मगर, उस पर कोई बोल नहीं रहा है।' अखिलेश मंगलवार को फूलपुर से सपा के पूर्व विधायक श्याम बहादुर यादव की मां को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, 'आजमगढ़ से समाजवादियों का मजबूत संबंध रहा है। जिले की जनता ने हमें भी चुनकर भेजा है। सपा का यहां से गहरा रिश्ता रहा है। आने वाले समय में यहां की जनता सपा के साथ रहेगी।'

मंगलवार को अखिलेश यादव आजमगढ़ के फूलपुर से सपा के पूर्व विधायक श्याम बहादुर यादव की मां को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे।
मंगलवार को अखिलेश यादव आजमगढ़ के फूलपुर से सपा के पूर्व विधायक श्याम बहादुर यादव की मां को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे।

अखिलेश बोले- भाजपा के लोग हेट कैलंडर पर बात करते हैं
उन्होंने कहा कि भाजपा को याद करना चाहिए कि उन्हीं के प्रधानमंत्री आगरा गए थे। तब उन्होंने कहा था कि वन ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी केवल ताजमहल से हो सकती है। उन्हीं के कार्यकर्ता ताजमहल से नफरत करते हैं। अखिलेश ने कहा कि भाजपा के लोग हेट कैलंडर पर बात करते हैं।

देश में सबसे ज्यादा अवैध घर भाजपा के
सपा सुप्रीमो ने बुलडोजर चलाने के सवाल पर कहा कि यूपी ही नहीं पूरे देश में सबसे ज्यादा भाजपा के लोगों के अवैध घर बने हैं। नियमों का पालन अगर कोई नहीं कर रहा है, तो वह भाजपा है। अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जिस अस्पताल का उद्घाटन किया, वह रेसिडेसिंयल इलाके में कैसे हो सकता है। अवैध को वैध किसने बनाया, यह सरकार बताए।

अखिलेश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है आजमगढ़ अखिलेश यादव के लिए आजमगढ़ बहुत महत्वपूर्ण है। 2022 विधानसभा चुनाव में भी यहां सपा की झोली में सभी 10 विधानसभा सीटें आई थीं। 2017 के विधानसभा चुनाव में भी इस जिले में सपा को 9 सीटें मिली थीं। यही कारण है कि सपा के नेताओं के घर होने वाले सुख-दुख के कार्यक्रम में अखिलेश यादव जरूर पहुंचते हैं। हालांकि, लोगों में इस बात को लेकर गुस्सा भी है कि जब जिले में बाढ़ आती है, डायरिया फैलता है, उस समय अखिलेश यादव आजमगढ़ में झांकने नहीं आते हैं और न ही ट्वीट करते हैं।

इसी डैमेज कंट्रोल के लिए सपा सुप्रीमो पूर्व विधायक श्याम बहादुर के घर पहुंचे थे। इसके बाद वह दीदारगंज थाना क्षेत्र के ग्राम गद्दोपुर पहुंचे और पूर्व मंत्री राम आसरे विश्वकर्मा की पत्नी के निधन पर शोक संवेदना प्रकट की।

खबरें और भी हैं...