पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आजमगढ़ डिजिटल प्रचार-प्रसार की तैयारियों में जुटे राजनीतिक दल:भाजपा बोली मजबूत टीम तो बसपा बोली डिजिटल में हम कमजोर, सपा कांग्रेस भी तैयारियों में जुटी

आजमगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ में चुनाव आयोग के निर्देश पर वर्चुवल बैठक व रैलियों की तैयारी में जुटे राजनीतिक दल।

2022 के विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। देश व प्रदेश में लगातार जिस तरह से कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। ऐसे में चुनाव आयोग ने जनसभा व चुनावी रैलियों पर रोक लगा दी है। ऐसे में राजनीतिक दलों के सामने चुनाव प्रचार की बड़ी चुनौती आ रही है।आजमगढ़ जिले में कोरोना संक्रमण को देखते हुए राजनीतिक दल वर्चुवल की तैयारियों में जुटे हुए है। ऐसे में जहां भाजपा के नेता अपने आईटी सेल को सबसे मजबूत बता रहे हैं, वहीं समाजवादी पार्टी का कहना है कि हमारे यहां भी तैयारियां तेजी से चल रही हैं। कांग्रेस ने आईटी की टीम बनाई है तो बसपा नेताओं का कहना है कि हमारे लिए यह नया है। फिर भी चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन किया जाएगा।

भाजपा बोली पूरी तैयारी
भाजपा के जिला महामंत्री पवन सिंह मुन्ना का कहना है कि हम लोग डिजिटल माध्यम से प्रचार-प्रसार को किसी तरह की चुनौती नहीं मानते हैं। भाजपा विगत दो वर्षों से कोरोना संक्रमण काल से ही वर्चुवल बैठक के साथ अन्य कार्यक्रम कर रही है। ऐसे में हमारे पदाधिकारी व कार्यकर्ता अभ्यस्थ हैं। विधानसभा की हमारी पूरी तैयारी है।

सपा बोली हर विधानसभा में लगा कंप्यूटर
सपा के जिलाध्यक्ष हवलदार यादव का कहना है कि समाजवादी पार्टी भी डिजिटल के माध्यम से प्रचार-प्रसार के लिए लगी हुई है। पार्टी के जिला कार्यालय पर आईटी सेल का गठन कर दिया गया है और दो कंप्यूटर लगाए गए हैं। जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने बताया कि जिले की सभी 10 विधानसभा में भी कंप्यूटर लगाया जा रहा है जिससे मॉनीटरिंग की जा सके।

कांग्रेस बोली एलईडी के माध्यम से जनता के बीच जाएगी पार्टी
कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रवीण सिंह का कहना है कि कांग्रेस पार्टी भी डिजिटल प्रचार-प्रसार में पीछे रहने वाली नही हैं। जिले के सभी 22 ब्लाकों में एलईडी टीवी लगाकर पार्टी के मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएगी। और हमें पूरा भरोसा है कि इस माध्यम से हम अपनी बातें जनता तक पहुंचा सकेंगे।

बसपा बोली चुनौती है
बसपा के मुख्य सेक्टर प्रभारी हरीश चन्द्र गौतम का कहना है कि डिजिटल के मामले में अभी हम लोग पीछे हैं। ऐसे में हमारे लिए यह चुनौती है। पर इसको लेकर राष्ट्रीय महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र को निर्देश दिया गया है, उसका पालन हम लोग करेंगे।

खबरें और भी हैं...