पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बूढ़नपुर में पोस्टमास्टर का बेटा बना वैज्ञानिक:असिस्टेंट प्रोफेसर है, परिजन बोले- बचपन से ही पढ़ाई में था होशियार

बूढ़नपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आजमगढ़ के बूढ़नपुर तहसील क्षेत्र के विकासखंड कोयलसा के हुसेपुर रामजियावन गांव निवासी डॉ शिवेंद्र प्रताप सिंह पुत्र शैलेंद्र प्रताप सिंह का चयन कृषि वैज्ञानिक पद के लिए हुआ। इससे क्षेत्र में खुशी का माहौल व्याप्त है। बता दें कि, डॉ शिवेंद्र प्रताप सिंह के पिता पोस्टमास्टर पद पर कार्यरत हैं। इनके बड़े भाई दिनेश सिंह उद्योग विद्यालय इंटर कॉलेज में प्रवक्ता पद पर कार्यरत है।

इससे पहले असिस्टेंट प्रोफेसर बने थे

इन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने बड़े भाई दिनेश सिंह और पिता शैलेंद्र प्रताप सिंह को दिया। ये प्राथमिक शिक्षा गांव के विद्यालय से प्राप्त किए। उसके बाद इंटरमीडिएट की शिक्षा उद्योग विद्यालय इंटर कॉलेज कोयलसा इससे पूर्व इनका चयन कृषि विश्वविद्यालय, बिहार में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर हुआ था। कृषि वैज्ञानिक पद पर चयन आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या में हुआ है।

लोगों ने दी बधाई

कृषि वैज्ञानिक डॉ शिवेंद्र प्रताप सिंह ने अपना और परिवार व क्षेत्र का नाम रोशन किया बधाई देने वालों का तांता लगा रहा। इसमें उद्योग विद्यालय इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ रणधीर सिंह डॉ जसवंत प्रताप सिंह प्रमोद राय दिनेश सिंह बलवंत श्रीवास्तव डॉक्टर संजय सिंह धर्मेंद्र मिश्रा बबीता सिंह उमा उमा माधवी सहित अनेक लोगों ने बधाई दी।

परिजनों ने बताया कि, डॉ शिवेंद्र प्रताप सिंह शुरू से पढ़ाई में मन लगाकर पढ़ते थे। प्राथमिक विद्यालय हाइस्कूल, इंटरमीडिएट में इनका हमेशा ही अव्वल नम्बर ही रहते थे। वही शिक्षक भी इनके पढ़ाई की तारीफ किया करते थे। सुबह से लेकर शाम तक ज्यादा वक़्त बिताते हैं। इनका पूरा परिवार ही शिक्षित है। पूरा परिवार शिक्षा पर शुरू से भरोसा करता रहा है। शिक्षा हर व्यक्ति को ग्रहण करना चाहिए। शिक्षा से ही लोगो का जीवन सुधर जाएगा।

खबरें और भी हैं...