पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

औरेया में चलाया गया अभियान:यमुना तट को प्लास्टिक पॉलिथीन से मुक्त कराने का है लक्ष्य; जलीय प्रजातियां के लिए बढ़ रहा संकट

औरैया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यमुना तट के सौंदर्यीकरण के लिए तट पर स्थित अंत्येष्टि स्थलों पर 'एक विचित्र पहल सेवा समिति' द्वारा विगत 8 वर्षों से अनवरत सफाई अभियान चलाया जा रहा है। 141वें चरण के अंतर्गत आज रविवार को समिति के सदस्यों ने यमुना तट पहुंचकर सफाई यंत्रों के सहयोग से अंत्येष्टि स्थलों की साफ सफाई की। 141 अभियानों में लगभग 46 टन कचरा अपशिष्ट यमुना नदी में जाने से रोका गया।

पॉलीथिन से बढ़ रहे खतरे के दृष्टिगत विचार विमर्श
सफाई अभियान के उपरांत समिति के सदस्यों ने पर्यावरण प्रदूषण व जल संरक्षण के अंतर्गत यमुना तट को प्लास्टिक पॉलिथीन सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त बनाने के लिए अभियान चलाया, जिसके अंतर्गत सदस्यों ने यमुना तट पर पर्यावरण को निरंतर नुकसान पहुंचा रहे पॉलीथिन व प्लास्टिक को एकत्रित कर स्वच्छता का संदेश दिया। उसके उपरांत राम झरोखा में नदियों व मानव जीवन में प्लास्टिक पॉलीथिन से बढ़ रहे खतरे को दृष्टिगत रखते हुए विचार विमर्श किया गया।

सरकार से सिंगल यूज प्लास्टिक पर तत्काल रोक लगाने की मांग
समिति के संस्थापक आनन्द नाथ गुप्ता एडवोकेट ने बताया कि प्लास्टिक से होने वाला प्रदूषण पर्यावरण को निरंतर गंभीर नुकसान पहुंचा रहा है। नदियों में विचरण कर रहे जलीय प्रजातियों के साथ-साथ मानव जीवन में पॉलिथीन निरंतर जहर घोल रही है। समिति के सदस्यों ने सरकार से पॉलिथीन व सिंगल यूज प्लास्टिक पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है। समिति के संस्थापक ने बताया कि बारिश का मौसम प्रारंभ होने पर जीवनधारा पौधारोपण अभियान चलाया जाएगा, जिसमें 5100 पौधों के पौधारोपण का लक्ष्य है।

अभियान व बैठक में प्रमुख रूप से राकेश गुप्ता, शेखर गुप्ता बैंक वाले, सभासद छैया त्रिपाठी, मोहित अग्रवाल (लकी), देवेंद्र गुप्ता, ऋषभ पोरवाल, दिनेश शिवहरे, अर्पित गुप्ता, कपिल गुप्ता, मनीष पुरवार (हीरु), आनन्द गुप्ता (डाबर), आदित्य पोरवाल, रानू पोरवाल, अनूप बिश्नोई, संजय अग्रवाल, सतीश पोरवाल, रज्जन बाल्मीक आदि यमुना मैया के सेवादार मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...