पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

​​​​​​​ग्रामसभा की जमीन पर मस्जिद बनाने की तैयारी, तनाव:रहने और पशुपालन के लिए सहमति से ली थी जमीन, घर बना लगाया लाउडस्पीकर

हसनपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमरोहा के हसनपुर तहसील अंतर्गत थाना रहरा क्षेत्र के जेबड़ा मुस्तकम गांव में माहौल बिगाड़ने की कोशिश के बाद गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है। दरअसल मुस्लिम समाज के कुछ लोगों ने ग्रामीणों की सहमति से ग्रामसभा की जमीन रहने और पशुपालन के लिए ली थी। अब इस जमीन पर मदरसा बनाकर नमाज पढ़ी जा रही है। ग्रामीणों का आरोप है कि यहां मस्जिद बनाने की तैयारी है।

रविवार को ग्रामीणों ने इसके विरोध में प्रदर्शन किया। इससे गांव में तनाव का माहौल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों के साथ बैठकर मामले को समझा और वार्ता की और नई परंपरा न लागू करने की हिदायत दी।

ग्रामीण नितिन कुमार ने बताया कि, मुस्लिम समाज के लोगों ने पहले ग्राम समाज की जमीन पर गांव की सहमति से रहने और यहां पशुपालन करने बनाने की बात कही थी। सहमति बनने पर उन्होंने इस पर एक मदरसा बना लिया। धीरे-धीरे यहां नमाज पढ़ने लगे। अब यहां पर आकर लाउडस्पीकर लगा लिए हैं। ग्रामीणों का कहना है कि, मुस्लिम समुदाय के लोग यहां सामूहिक नमाज पढ़ते-पढ़ते मस्जिद बनाना चाहते हैं। इसका विरोध किया जा रहा है। घटना से गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है।

गांव में पुलिस बल तैनात

मामले ने तूल पकड़ा तो सूचना आलाधिकारियों को दी गई। एसडीएम सुधीर कुमार, सीओ सतीश चंद्र पांडेय, थानाध्यक्ष व पुलिस जवानों के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने दोनों पक्षों के साथ बैठकर वार्ता की। कहा कि- गांव में कोई भी नई परंपरा न डालें। यदि नई परंपरा डाली गई तो उस पक्ष के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सुरक्षा की दृष्टि से गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है। फिलहाल अभी गांव में मामला शांत है। प्रदर्शन करने वालों में प्रमुख रूप से नेपाल, सत्येंद्र सिंह, राहुल कुमार, सुरेंद्र कुमार, रविंदर सिंह, विपिन कुमार, लख्मी चंद, किरण सिंह, विजयपाल सिंह, बिट्टू सागर, नितिन सागर आदि लोग मौजूद रहे।

नई परंपरा नहीं डाली जाएगी

एसडीएम सुधीर कुमार ने कहा कि नमाज पढ़ने को लेकर दो पक्षों में तनाव हो गया था। दोनों पक्षों को बैठाकर वार्ता करा दी गई है। गांव में कोई भी नई परंपरा नहीं डाली जाएगी। सुरक्षा के दृष्टिगत गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। अब गांव में शांति है।

खबरें और भी हैं...