पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अमेठी में SDM का आदेश महज छलावा:क्षेत्र का मोह नहीं छोड़ पा रहे दो लेखपाल, ट्रांसफर के 14 महीने भी पद पर हैं बने

अमेठी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के अमेठी में सरकार के स्थानांतरण आदेश की लेखपाल अवहेलना कर रहे हैं। एसडीम द्वारा एक वर्ष पूर्व किये गये स्थानांतरण के आदेश को न मानते हुए उसी तहसील में आज भी कार्य कर रहे हैं। जिससे एक तरफ सरकारी आदेशों का उलंघन हो रहा है तो वहीं दूसरी तरफ स्थानांतरण होने के बाद भी उक्त तहसील में टिक कर काम कर रहे लेखपाल जनता के बीच में चर्चा का विषय बने हुए हैं। जिस पर तहसीलदार ने पुनः आदेश जारी करते हुए उक्त लेखपालो को आदेश का कड़ाई से अनुपालन करने का निर्देश दिया है।

मामला मुसाफिरख़ाना तहसील क्षेत्र का है जहां जनहित, प्रशासनिक कार्य हित को ध्यान में रखते हुए एक ही कार्य क्षेत्र में तीन वर्ष से अधिक समय तक कार्यरत होने के कारण बारह लेखपालों के स्थानांतरण का आदेश उपजिलाधिकारी ने जारी किया था। परंतु लगभग 14 माह बीत जाने के बाद भी दो लेखपालों ने वर्तमान क्षेत्र नही छोड़ा हैं। लेखपालों द्वारा जहां एक ओर सरकार के सरकारी आदेश की अवहेलना की जा रही है।तो वहीं दूसरी ओर लेखपालों द्वारा नवीन क्षेत्र में जाकर तैनाती न किया जाना आम जनता में चर्चा का विषय बना हुआ हैं।

पुनः किया गया आदेश

तहसीलदार मुसाफिरखाना ने पुनः आदेश जारी करते हुए लेखपाल शिवकुमार शुक्ल व लेखपाल दीनानाथ ओझा को एक ही कार्य क्षेत्र में तीन वर्ष से अधिक समय तक कार्यरत होने के आधार पर स्थानांतरण किया है। तहसीलदार ने लेखपाल को आदेश को तत्काल प्रभाव से अनुपालन करने के लिए कहा है। ज्ञात हो कि शिवकुमार शुक्ल वर्तमान में कठौरा में कार्यरत है जबकि इनकी नवीन तैनाती उरवा में की गई है एवं दीनानाथ ओझा की वर्तमान में उरवा में कार्यरत है जबकि इनकी तैनाती कठौरा में की गई है।

खबरें और भी हैं...