पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति पर ईडी का शिकंजा:अमेठी में बेटे-बेटियों की करोड़ों की संपत्ति की जब्त, लगाया बोर्ड

अमेठी जिला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेठी में प्रवर्तन निदेशालय ने बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने जेल में बंद पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति पर शिकंजा कसा है। ईडी ने अमेठी में मौजूद गायत्री प्रजापति के परिवार की संपत्ति को कब्जे में ले लिया है। संपत्ति करोड़ों में बताई जा रही है। कार्रवाई अमेठी तहसील के महमूदपुर और गायत्री प्रजापति के पैतृक गांव परसावा में हुई है।

ईडी ने गायत्री प्रजापति के छोटे बेटे अनुराग प्रजापति, दोनों बेटियों अंकिता और सुधा प्रजापति के नाम दर्ज जमीनें अपने कब्जे में ले ली है। अनुराग प्रजापति के नाम दर्ज भूखंड संख्या 1071,1072 और 1075 पर ईडी का कब्जा है। दोनों बेटियों सुधा और अंकिता प्रजापति के नाम दर्ज गाटा संख्या 50 और 58 भी अब ईडी के नियंत्रण में है। ईडी की कार्रवाई के दौरान अमेठी का स्थानीय प्रशासन भी मौजूद रहा। ईडी ने सभी भूखंडों को कब्जे में लेते हुए अपना बोर्ड लगा दिया है।

सपा सरकार में कद्दावर मंत्री थे गायत्री प्रजापति

2012 से 2017 की अखिलेश यादव सरकार में कद्दावर मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति गैंगरेप आरोप में जेल में बंद है। सरकार के निर्देश पर ईडी जेल में बंद पूर्व मंत्री के संपत्तियों की जांच कर रही है। लंबे समय से पूर्व मंत्री की संपित्त का विवरण खंगालने में जुटी ईडी ने बड़े पैमाने पर गड़बड़ी पकड़ी है। जांच के दौरान ईडी उनके परिजनों से पूछताछ भी कर चुकी है।

अमेठी की विधायक हैं पूर्व मंत्री की पत्नी

जेल में बंद पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति की पत्नी महराजी प्रजापति अमेठी विधानसभा की मौजूदा विधायक हैं। सपा के टिकट पर विधायक चुनी गईं महराजी आए दिन सरकार पर अपने परिवार को परेशान करने का आरोप लगाती रहती हैं। कुछ दिन पहले हुए मकानों के मूल्यांकन पर महाराजी देवी ने कहा था कि सरकार उनके पीछे पड़ी है।

खबरें और भी हैं...