पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59723.54-0.62 %
  • NIFTY17855.65-0.46 %
  • GOLD(MCX 10 GM)480700.26 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633193.1 %

कृषि कानून की वापसी... महिला किसानों ने बांटे लड्डू:अमेठी में किसान नेत्री रीता सिंह बोली-15 महीने बाद प्रधानमंत्री को आया याद धरने पर बैठा है किसान

अमेठी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमेठी में महिला किसानों में खासा खुशी देखने को मिली है। - Money Bhaskar
अमेठी में महिला किसानों में खासा खुशी देखने को मिली है।

प्रधानमंत्री द्वारा कृषि बिल वापसी को लेकर अमेठी में महिला किसानों में खासा खुशी देखने को मिली है। जहां अमेठी में महिला किसानों ने एक दूसरे को लड्डू खिलाकर खुशियां मनाई। वहीं मोदी और विपक्ष को लेकर उनके तेवर काफी तीखे रहे।

किसान नेत्री रीता सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने जो तीनों कृषि कानून वापस लिया है। इस पर अपार खुशी है। उन्होंने इसे लोकतंत्र की जीत बताया कहा कि 15 महीनों से किसान धरना प्रदर्शन, समय-समय पर जनपदों से और दिल्ली के बॉर्डर पर जमे हुए थे। प्रधानमंत्री को लगा होगा कि कहीं न कहीं रोष व्याप्त है। आने वाले समय में चुनाव करीब है। कहीं किसान उनके चुनाव को तहस नहस न कर दें। इसलिए यह कदम उठाया।

किसान नेत्री रीता सिंह ने कहा कि विपक्ष इस मुद्दे को भुनाने पर लगा ही रहेगा।
किसान नेत्री रीता सिंह ने कहा कि विपक्ष इस मुद्दे को भुनाने पर लगा ही रहेगा।

उन्होंने कहा कि विपक्ष इस मुद्दे को भुनाने पर लगा ही रहेगा। क्योंकि इतने दिन से किसान बैठा है। तब कोई दस लोग किसानों के पास जाकर बैठा नही। दुःख-सुख पूछा नही। आज जब प्रधानमंत्री ने बिल वापस ले लिया तो विपक्ष रोटी क्यों सेंक रहा है। विपक्ष की कोई भूमिका नही है। उन्होंने प्रधानमंत्री पर तंज कसा कहा 750 किसान 15 महीने में शहादत पा चुके हैं। उन्हे मालूम नही था। किसानों ने प्रधानमंत्री के हथकंडे को फेल कर दिया।

खबरें और भी हैं...