पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अमेठी में कांग्रेसियों का सत्याग्रह:कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने की मांग- सेना भर्ती में पुराना नियम हो लागू, जिससे देश की सीमा और सेना सुरक्षित रहे

अमेठी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेठी में अग्निपथ के विरोध में कांग्रेसियों ने कांग्रेस कार्यालय में सत्याग्रह आंदोलन किया। सत्याग्रह में पहुंचे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने अग्निपथ के विरोध में नारेबाजी की। जिलाध्यक्ष ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा, सरकार के इस फैसले से युवाओं के मनोबल पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा है। हम सरकार के इस फैसले का विरोध करते हैं।

गौरीगंज तहसील के जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय पर आज जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल के नेतृत्व में अग्निपथ के विरोध में सत्याग्रह का आंदोलन किया गया। कांग्रेसियों ने सत्याग्रह के आंदोलन में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हुए जमकर नारेबाजी की। सैकड़ों की संख्या में पहुंचे कार्यकर्ताओं ने सरकार के विरोध में प्रदर्शन में किया।

जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल ने कहा, यह जो सरकार ने अग्निपथ योजना लागू की है, इसके विरोध में कांग्रेस पार्टी पूरे प्रदेश में प्रदर्शन कर रही है। कांग्रेस पार्टी इसका विरोध कर रही है। ये युवाओं के लिए जो 4 साल सेना में भर्ती कर रही है, यह ठीक नहीं है। इससे जो नौजवान हैं, उनका मनोबल गिरेगा। हम इसका विरोध करते हैं।

जिला उपाध्यक्ष ने कहा, यह आंदोलन जो है, अग्निपथ योजना जो मोदी सरकार द्वारा लाई गई है। देश के भविष्य और नवयुवकों के साथ इतना बड़ा अन्याय किया गया है, जिसकी कोई सीमा नहीं है। कांग्रेस पार्टी नौजवानों के साथ खड़ी है और इस न्याय की लड़ाई को आर-पार लड़ने के मूड में है। कांग्रेस पार्टी चाहती है कि जिस तरह पहले सेना में नौकरी दी जाती थी और रिटायरमेंट होता था। वही प्रोसीजर चलता रहे, जिससे देश सीमा और सेना दुरुस्त रहे और देश सुरक्षित रहे।