पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अमेठी तहसील में किसानों का प्रदर्शन:किसान यूनियन अवध ने तहसील परिसर में लगाई पंचायत, 18 सूत्रीय मांगों को लेकर दे रहे धरना

अमेठी तहसील2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन अवध के कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया। किसान नेताओं ने जय जवान जय किसान का नारा बुलंद करते हुए आर पार की लड़ाई का ऐलान किया। प्रदर्शन में तहसील कर्मचारियों द्वारा किसानों से वसूली वा आवारा पशुओं को संरक्षित किए जाने हेतु मुद्दे छाए रहे।

किसानों ने आरोप लगाया कि अमेठी तहसील में कुछ लेखपालों द्वारा गरीब किसानों को गुमराह कर पट्टा आवंटित के नाम पर पैसे ले लिये गये है और किसानों के पैसा वापस मांगने पर उन्हें धमकी दी जा रही है। ऐसे लेखपालों पर कार्यवाही की जाये। वही तहसील अमेठी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली ग्राम सभाओं में श्मशान और कब्रिस्तान की भूमि को बाउंड्रीवाल बनाये जाये व रास्ते का निर्माण व हैंड पम्प लगाये जाए। किसानों नेताओं ने कहा कि सहारा बैंक में गरीब किसानों की कमाई को एजेंट द्वारा लालच देकर पैसे को जमा कराया गया था। समय पूरा होने के बाद भी किसानों के पैसों का भुगतान नही किया जा रहा है। किसान आत्महत्या करने को मजबूर है। जिसकी जांच करा कर किसानों के पैसे वापस दिलाए जाए।

सकैड़ों गांव के लोगों के लिए रास्ते की समस्या
वही ग्राम सभा रायदेपुर बिराहीनपुर व रेभा सहित सकैड़ों गांव के लोगों के लिए रास्ते की समस्या भी उठाया। उन्होंने कहा की रेलवे लाइन पार कर आवागमन करना पड़ता है। जिसमें आये दिन रेलवे ट्रैक पर कई लोग ट्रेन से दुर्घटना का शिकार होते है। लोगों की सुरक्षा व सुविधाओं को देखते हुए अंडर पास व क्रासिंग बनवाए जाएं। इन समस्याओं सहित 18 सूत्रीय मांगों को लेकर तहसील में किसानों का धरना प्रदर्शन जारी है।

किसानों ने 18 सूत्रीय मांगों को रखा
वही जिलाध्यक्ष दिनेश तिवारी ने कहा कि आज अमेठी तहसील में हम लोगों का धरना प्रदर्शन चल रहा है। जिसमें हम लोगों ने 18 सूत्रीय मांगों को रखा है अगर हम लोगों की मांगे पूरी नहीं होती है तो यह धरना प्रदर्शन और बड़ा हो जाएगा की लड़ाई लखनऊ तक जाएगी जिसको लेकर आज हम लोग यहां पर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...