पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सलमान को बदल सपा ने अज्जू को बनाया प्रत्याशी:अलीगढ़ की तीनों बची हुई सीटों पर सपा ने प्रत्याशी किए घोषित

अलीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
समाजवादी पार्टी ने अलीगढ़ की कोल विधानसभा सीट से प्रत्याशी बदलते हुए अज्जू इश्हाक को फार्म बी देकर मैदान में उतारा है। वहीं छर्रा से लक्ष्मी धनगर और अतरौली से वीरेश यादव पर भरोसा जताया है। - Money Bhaskar
समाजवादी पार्टी ने अलीगढ़ की कोल विधानसभा सीट से प्रत्याशी बदलते हुए अज्जू इश्हाक को फार्म बी देकर मैदान में उतारा है। वहीं छर्रा से लक्ष्मी धनगर और अतरौली से वीरेश यादव पर भरोसा जताया है।

अलीगढ़ की कोल विधानसभा सीट पर अज्जू इश्हाक को पार्टी ने अपना प्रत्याशी बनाया है और उन्हें पार्टी का फार्म बी भी मिल गया है। इससे पहले जारी हुई सूची में सलमान शाहिद को प्रत्याशी बनाया गया था, लेकिन जिले में उनका विरोध शुरू हो गया था। विरोध के कारण पार्टी ने उनका फार्म बी रोक दिया था। पार्टी हाईकमान तक विरोध की सूचना पहुंचने के बाद पदाधिकारी इस मामले को लेकर लखनऊ रवाना हो गए थे।

कई दिन इस मामले पर मंथन करने के बाद पार्टी की ओर से प्रत्याशी बदलते हुए अज्जू इश्हाक को कोल विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया गया है। इसके साथ ही अतरौली से पूर्व विधायक वीरेश यादव और छर्रा से लक्ष्मी धनगर को प्रत्याशी बनाया गया है।

फार्म बी व अपने समर्थकों के साथ अज्जू इश्हाक (लाल टोपी में)
फार्म बी व अपने समर्थकों के साथ अज्जू इश्हाक (लाल टोपी में)

विधानसभा कोल- पहले भी चुनाव लड़ चुके हैं अज्जू

अलीगढ़ की कोल विधानसभा सीट से टिकट पाने वाले अज्जू इश्हाक वर्ष 2017 में भी पार्टी के टिकट से विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं। मोदी की लहर में उन्हें भाजपा के सिटिंग विधायक अनिल पराशर के हाथों हार का सामना करना पड़ा था और वह दूसरे स्थान पर रहे थे। इसके साथ ही वह पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता रहे हैं और महानगर अध्यक्ष की भूमिका भी निभा चुके हैं। जिसके चलते पार्टी ने उन पर भरोसा जताते हुए उन्हें टिकट दिया है।

फार्म बी के साथ पूर्व विधायक वीरेश यादव
फार्म बी के साथ पूर्व विधायक वीरेश यादव

अतरौली विधानसभा : कल्याण सिंह के गढ़ से लड़ेंगे पूर्व विधायक

सूबे के मुख्यमंत्री व राजस्थान के राज्यपाल रहे बाबूजी कल्याण सिंह का गढ़ मानी जाने वाली अतरौली विधानसभा सीट पर सपा ने पूर्व विधायक वीरेश यादव को उतारा है। वीरेश 2017 में भी अतरौली से चुनाव लड़े थे और कल्याण सिंह के पौत्र संदीप सिंह के हाथों उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। वह दूसरे स्थान पर रहे थे, जबकि इससे पहले वीरेश यादव तीन बार MLA रह चुके हैं। सबसे पहले वह 1993 में छर्रा-गंगीरी सीट से सपा के प्रत्याशी रहते हुए जीते थे।

2002 में उन्होंने दुबारा इसी सीट से जीत हासिल की थी। इसके बाद वह 2012 में अतरौली विधानसभा से जीते। लेकिन 2017 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

लक्ष्मी धनगर, सपा प्रत्याशी, छर्रा विधानसभा
लक्ष्मी धनगर, सपा प्रत्याशी, छर्रा विधानसभा

छर्रा विधानसभा : लक्ष्मी धनगर को बनाया गया प्रत्याशी

अलीगढ़ की छर्रा विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी ने लक्ष्मी धनगर को प्रत्याशी बनाया गया है। लक्ष्मी इससे पहले 2019 का लोकसभा चुनाव भी लड़ चुकी हैं। इसके बाद उन्होंने जनवरी 2021 में सपा की सदस्यता ली थी। पूर्व सीएम अखिलेश जब अलीगढ़ आए थे तो उन्हें पार्टी के मंच पर स्थान मिला था और राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश अध्यक्ष ने खुद उन्हें पार्टी की सक्रिय सदस्यता दिलाई थी। लक्ष्मी अपने समाज का जाना माना चेहरा हैं और धनगर समाज महासंघ की महिला विंग की राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं। जिसके चलते पार्टी ने उन पर भरोसा जताया है।

खबरें और भी हैं...