पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

अलीगढ़ में ट्रामा सेंटर पर लगा 2 करोड़ का जुर्माना:एक ही कनेक्शन से चल रही थी दो बिल्डिंग की बिजली, नहीं देने पर होगी रिपोर्ट

अलीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
15 दिन में यह जुर्माना जमा कराना होगा, अन्यथा बिजली काटने व मुकदमें की कार्रवाई की जाएगी - Money Bhaskar
15 दिन में यह जुर्माना जमा कराना होगा, अन्यथा बिजली काटने व मुकदमें की कार्रवाई की जाएगी

अलीगढ़ में ट्रामा सेंटर पर अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई। बिजली विभाग ने नियमों को दरकिनार करने पर 2 करोड़ का जुर्माना लगाया है। बता दें कि अलीगढ़ में इतना जुर्माना आज तक किसी ग्राहक पर नहीं लगा। दरअसल, वरूण ट्रांमा सेंटर एक ही कनेक्शन से अपनी दो बिल्डिगों में बिजली का लाभ रे रहा था। इसकी शिकायत पर टीम ने एक्शन लिया। 15 दिन में अदा नहीं करने मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

यह है पूरा मामला
आगरा की विजिलेंस टीम 8 नवंबर को रामघाट-कल्याण मार्ग पर स्थित वरुण ट्रामा सेंटर पर छापेमारी करने आई थी। सामने आया कि वरुण ट्रामा सेंटर के एक विद्युत संयोजन से उसके सामने स्थित भवन में बिजली सप्लाई हो रही है। बिजली अधिकारियों ने इसे अवैध करार देते हुए धारा 126 के तहत कार्रवाई की। विद्युत वितरण निगम द्वितीय के एक्सएन एके कपिल ने दूसरे दिन (9 नवंबर) ही ट्रामा सेंटर को करीब 35 लाख रुपए का असिसमेंट (जुर्माना) लगाया था। जिसके बाद ट्रामा सेंटर के मालिक ने 3 लाख रुपए जमा भी कर दिया था।

इसके बाद विभागीय अधिकारियों ने ट्रामा सेंटर की विस्तृत जांच शुरू कर दी थी। लगभग 15 दिन बाद यह कार्रवाई हुई है।टीम ने अपनी कार्रवाई में पाया था कि एक ही संयोजन से दो भवनों में सप्लाई चल रही थी। ट्रामा सेंटर सड़क के एक तरफ है और दूसरा भवन सड़क के दूसरी ओर है। बिजली विभाग के नियमों के अनुसार यह पूरी तरह से गलत है।

2017 में बढ़ाया गया था लोड
ट्रामा सेंटर के भवन के बिजली कनेक्शन में वर्तमान में 120 किलोवाट का लोड था, जिससे दो भवनों में बिजली सप्लाई चल रही थी। 2017 में यह लोड बढ़ाया गया था। 2017 से पहले 55 किलोवाट का लोड था, जिसे 65 किलोवाट बढ़ाया गया था। इसके बाद से ही दोनों भवनों में लगातार बिजली सप्लाई चल रही थी। जबकि नियमानुसार दोनों भवनों में अलग-अलग कनेक्शन होने चाहिए थे।

होगी कार्रवाई
विद्युत वितरण खंड सेकंड के अधिशासी अभियंता एसके कपिल ने बताया कि सड़क पार के दूसरे भवन में कनेक्शन के बिना ही इस कनेक्शन से सप्लाई की जा रही थी। जिसके बाद 2 करोड़ 3 लाख रुपए का जुर्माना लगा है। 15 दिन में यह जुर्माना जमा कराना होगा, अन्यथा बिजली काटने व मुकदमें की कार्रवाई की जाएगी।