पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

यात्रियों से भरी बस डिवाइडर पर चढ़ी, हादसा टला:बारिश के कारण अल सुबह रोडवेज बस डिवाइडर पर चढ़ी, इससे कुछ देर पहले ट्रक भी हुआ था अनियंत्रित

अलीगढ़एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मीनाक्षी पुल पर डिवाइडर के ऊपर चढ़ी बस को क्रेन की मदद से निकालते पुलिस कर्मी - Money Bhaskar
मीनाक्षी पुल पर डिवाइडर के ऊपर चढ़ी बस को क्रेन की मदद से निकालते पुलिस कर्मी

अलीगढ़ के रामघाट रोड पर शनिवार सुबह दो बड़े हादसे होने से बच गए। बारिश के दौरान रोडवेज बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर के ऊपर चढ़ गई। जिस बस में सवारियां थी, वह डिवाइडर के ऊपर चढ़ने के बाद फंस गई और सवारियों को मामूली चोटें आई। मौके पर पहुंची पुलिस ने क्रेन की सहायता से बस को निकाला। इससे पहले एक ट्रक अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर चढ़ गया था और स्ट्रीट लाइट के पोल को तोड़ने हुए आगे रवाना हो गया था।

बाइक सवार को बचाने में हुए हादसा

गांधी पार्क बस स्टैंड से हर दिन सुबह 6 बजे मुरादाबाद के लिए बस चलती है। शनिवार सुबह भी चालक मुकेश और परिचालक विकास बस लेकर मुरादाबाद के लिए रवाना हुए। बस में 11 सवारियां ही बैठी थी और बस मीनाक्षी पुल पर पहुंची। चालक मुकेश ने बताया कि बारिश हो रही थी और उनके आगे एक बाइक सवार चल रहा था। उसे बचाने के चक्कर में बस अनियंत्रित हो गई और डिवाइडर के ऊपर चढ़ गई। बस के डिवाइडर पर चढ़ने के कारण बस में चीख पुकार मच गई और सवारियां भी चोटिल हो गई। घटना की सूचना पाकर लैपर्ड व सिविल लाइंस पुलिस मौके पर पहुंची।

दो घंटे की मशक्कत के बाद निकली बस

पीतल नगरी डिपो की रोडवेज बस को करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस कर्मियों ने क्रेन की सहायता से निकाला। इस दौरान बस में बैठी सवारियों को मामूली चोटें आई थी, क्रेन की सहायता से बस को नीचे उतारने में काफी समय लग गया, ऐसे में सवारियों को दूसरी बस में बैठाकर मुरादाबार के लिए रवाना किया गया। दो घंटे बाद जब बस को नीचे उतारा गया, इसके बाद वह भी मुरादाबाद रवाना हो गई।

बस पलट जाती तो हो यात्रियों को आती गंभीर चोटें

अनियंत्रित होने के बाद बस जब डिवाइडर के ऊपर चढ़ी तो वह अटक गर्इ और पलटने से बच गई। जिसके बाद बस में बैठी सवारियों में अफरा तरफी मच गई और वह बस से उतरकर भागने लगी। लेकिन बस अगर पलट जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था और कर्इ यात्रियों की जान का खतरा भी हो सकता था।

घिसे हुए टायर के कारण नहीं रुकी बस

बाइक सवार को बचाने के लिए चालक ने जब ब्रेक लगाई तो बस रुकी नहीं और सरकते हुए डिवाइडर पर चढ़ गई। इसके पीछे वजह यह बताई जा रही है कि बस के टायर घिस चुके थे और इसी कारण वह रुकी नहीं और डिवाइडर पर चढ़ गई। अगर बस के टायर नए होते तो यह परेशानी नहीं आती।

ट्रक ने स्ट्रीट लाइट के कई पोल

बस से पहले रामघाट रोड से एक ट्रक गुजरा और वह भी अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर चढ़ गया। लेकिन ट्रक के चालक ने जैसे तैसे करके ट्रक को डिवाइडर से उतराया और ट्रक को पलटने से बचा लिया। लेकिन इस दौरान वह स्ट्रीट लाइट के कई पोल को तोड़ते हुए आगे बढ़ता गया। सुबह का समय होने के कारण ट्रक बिना किसी रोक टोक के आगे के लिए रवाना हो गया।

यातायात शुरू होता तो हो सकता था हादसा

मीनाक्षी पुल और रामघाट रोड शहर की सबसे व्यस्त सड़कों में शामिल है, जहां पूरे दिन यातायात चलता रहता है। सुबह के समय जब यह हादसा हुआ तो यातायात शुरू नहीं हुआ था और बारिश के कारण सड़के भी सूनी पड़ी हुई थी। अगर यह घटना यातायात शुरू होने के बाद होती तो सड़क पर चलने वाले कई लोग इसकी चपेट में आ सकते थे।

खबरें और भी हैं...