पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57260.580.27 %
  • NIFTY17053.950.16 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47950-0.42 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62854-0.82 %

आगरा...ट्रक की टक्कर से किशोरी की मौत:विसर्जन के चलते नहीं थी भारी वाहन की अनुमति, सेटिंग से यमुना किनारा रोड पर घुसा स्मार्ट सिटी का ट्रक, देर रात दर्ज हुआ मुकदमा

आगराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थाना छत्ता क्षेत्र में नो एंट्री में घुसे ट्रक द्वारा किशोरी को रौंदने के बाद हंगामा करते लोगों को समझाती हुई सीओ छत्ता - Money Bhaskar
थाना छत्ता क्षेत्र में नो एंट्री में घुसे ट्रक द्वारा किशोरी को रौंदने के बाद हंगामा करते लोगों को समझाती हुई सीओ छत्ता

आगरा के थाना छत्ता अंतर्गत यमुना किनारा रोड पर बीती रात नो एंट्री में घुसे ट्रक ( डम्पर) ने बाइक को टक्कर मार दी और सड़क पर खड़े कई लोगों को घायल कर दिया। दुर्घटना के बाद चालक वाहन छोड़कर फरार हो गया। हादसे में बाइक पर सवार किशोरी की मौके पर ही मौत हो गयी। घटना के बाद क्षेत्रीय विधायक और पार्षद समेत तमाम लोगों ने जमकर हंगामा काटा। विधायक के दबाव के बाद राटा दो बजे डम्पर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। अपनी गलती साफ दिखाई देने के चलते फजीहत से बचने को मीडिया कर्मियों को कवरेज नहीं करने दिया गया और मुकदमा दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने मीडिया द्वारा पूछने पर भी दोपहर तक जानकारी नहीं दी।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को यमुना किनारा रोड पर विसर्जन के चलते भारी वाहनों का प्रवेश वर्जित था। रात्रि 9 बजे के लगभग विजय नगर निवासी नैना अग्रवाल पुत्री राजेश अग्रवाल परिजनों के साथ हाथी घाट पर प्रतिमा विसर्जन कर पिता की बाइक पर वापस लौट रही थी। इसी दौरान हाथी घाट की ओर से जीवनी मंडी की तरफ जा रहे स्मार्ट सिटी के डम्पर ने अचानक अनियंत्रित होकर पंछी पेठा की दुकान के पास बाइक को टक्कर मार दी और गाड़ी भागने के चक्कर में लोगों को रौंद दिया। इसके बाद ट्रक दीवार से लड़ जाने के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया। हादसे में लोगों को गंभीर चोट नहीं आई हैं पर तेज चोट लगने के चलते 16 वर्षीय नैना अग्रवाल की मौत हो गयी है।

लोगों ने किया हंगामा, नो एंट्री में कैसे घुसा ट्रक

बता दें कि नो एंट्री होने के बाद भी पुलिस से सांठ गांठ कर ट्रक को प्रवेश मिल गया और उसने यह हादसा कर दिया। किशोरी की मौत के बाद विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल, पार्षद धर्मवीर आदि मौके पा आ गए। लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। स्थानीय निवासियों ने आरोप लगाया कि थाना पुलिस रोजाना जवाहर पुल के नीचे, वाटरवर्क्स चौराहा और हथिघाट क पास खड़ी होकर ट्रको से वसूली कर उन्हें प्रवेश देते हैं। इसके चलते पहले भी कई हादसे हो चुके हैं।

अंत तक मैनेजमेंट में लगी रही पुलिस

हादसे के बाद जब लोगों ने प्रदर्शन करना शुरू किया तो पुलिस ने ट्रक कब्जे में होने की बात कहते हुए मामले को निपटाने के प्रयास किया। सीओ दीक्षा सिंह और इंस्पेक्टर शेर सिंह लगातार लोगों को समझकर मामला शांत करने में लगे रहे पर विधायक के हस्तक्षेप के बाद चालक पर मुकदमा किया गया है। अधिकारी मीडिया को बहाने बनाकर जानकारी देने से भी बच रहे हैं। शनिवार शाम को चार बजे के करीब एसपी सिटी विकास कुमार ने ट्रक जब्त करने और चालक को गिरफ्तार किये जाने की जानकारी दी है।