पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चोरी के आरोप में दलित नौकरानी को थर्ड डिग्री:पांच लाख के गहने चुराने के आरोप में पकड़ा, पूछताछ के बाद छोड़ा, थर्ड डिग्री देने की बात से पुलिस का इंकार

आगराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इलाज के अभाव में घर पर पड़ी पीड़िता मुस्कान - Money Bhaskar
इलाज के अभाव में घर पर पड़ी पीड़िता मुस्कान

आगरा के थाना ताजगंज पुलिस पर चोरी के आरोप में नौकरानी को पकड़ कर उसे थर्ड डिग्री देने का आरोप लगा है। घायल नौकरानी इलाज के अभाव में घर पर पड़ी है। पीड़िता के अनुसार आभूषण मालिक के घर पर ही मिलने के बाद उसे छोड़ा गया है। पुलिस ने माल बरामद होने और थर्ड डिग्री देने के आरोपों से इंकार किया है।

आगरा में सट्टेबाज से पैसे लेकर व्यापारियों को पकड़ने और पांच लाख वसूलने का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ था की पुलिस पर चोरी के शक में नौकरानी को थर्ड डिग्री देने का आरोप लगा है।

बीती 13 मई को थाना ताजगंज के अंतर्गत डायनामिक गुलमोहर कॉलोनी निवासी सतीश ने आरोप लगाया था की उसके घर में शादी समारोह के दौरान 5 लाख कीमत के सोने के आभूषण चोरी हुए हैं। उन्होंने शक जताया था की उनके यहां 3 मई को मुस्कान नामक नौकरानी काम छोड़ कर गयी थी और 8 मई को दूसरी नौकरानी आई थी। उन्हें दोनों नौकरानियों पर शक है।

पुलिस पर थर्ड डिग्री का आरोप

इस प्रकरण पर 15 मई को भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने थाने का घेराव किया था और पुलिस पर बिना लिखा पढ़ी दलित लड़की को थाने में बिठाने और पिटाई का आरोप लगाया था। इसके बाद विबाद बढ़ने पर पुलिस ने लड़की को छोड़ दिया था।

पड़ोसी और पीड़िता ने लगाए आरोप

पीड़िता मुस्कान का आरोप है की वो छह साल से घरों में काम करती है। मालकिन सोना ने उसपर चोरी का इल्जाम लगाया था। पहले उसे पकड़ कर बसई पुलिस चौकी ले जाया गया और जमकर मारा पीटा गया, जिससे उसका सर फट गया । फिर तोरा चौकी में उसे दरोगा व सिपाही ने पीटा और करंट लगाया। इसके बाद उसे घर लाया गया और तलाशी के दौरान उसे व उसके नाबालिग भाई को भी पीटा गया। पीड़िता के मुताबिक गहने मालकिन को घर मे ही मिल गए पर फिर भी पुलिस उसे चोरी कबूलने का दबाव बना रही थी। अब उसे छोड़ दिया है पर सरकारी अस्पताल इतनी चोट पर बिना पुलिस मेडिकल के भर्ती नहीं कर रहे हैं और उसके साथ ज्यादती की सुनवाई भी नहीं हो रही है। वहीं इस मामले में अब पड़ोसी भी खुलकर पुलिस द्वारा थर्ड डिग्री देने की बात बोल रहे हैं।

पूरे प्रकरण पर एसओ ताजगंज भूपेंद्र बालियान का कहना है की लड़की से महिला पुलिस ने पूछताछ की थी। अभी तक चोरी में माल बरामदगी नहीं हुई है। थर्ड डिग्री का आरोप बिल्कुल झूठा है। वहीं विश्वस्त सूत्रों की माने तो लखनऊ से फोन आने के बाद पुलिस ने खुलासे के लिए सख्ती की थी।