पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पाक का नापाक पैंतरा:वाट्सएप ग्रुप बना भारत में घुसपैठ कर रहा पाक,अलर्ट; श्रीकरणपुर के अधिकारियों व व्यापारियों को पाकिस्तानी ग्रुप में जोड़ा

श्रीगंगानगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पाक नंबरों के एडमिन द्वारा भारतीय नंबर जोड़कर वाट्सएप ग्रुप संचालित। - Money Bhaskar
पाक नंबरों के एडमिन द्वारा भारतीय नंबर जोड़कर वाट्सएप ग्रुप संचालित।
  • सीमावर्ती लोगों को जोड़ा जा रहा पाक ग्रुपों में, श्रीकरणपुर थाने में आया परिवाद

भारत-पाक सीमावर्ती क्षेत्र में पाकिस्तान की एक और बड़ी नापाक हरकत सामने आई है । पाक अब वाट्स ग्रुप बनाकर भारत में घुसपैठ कर रहा है। इसका खुलासा तब हुआ, जब पाकिस्तान के वाट्सएप ग्रुपों में श्रीकरणपुर के अधिकारियों, आम लोगों व व्यापारियों को जोड़ लिया गया। हालांकि समय रहते कई लोगों को इसका पता लग गया तो कई लोग ग्रुप से लेफ्ट हो गए तो कुछ उसमें जुड़े हुए थे। इस संबंध में श्रीकरणपुर के एक व्यक्ति ने थाने में परिवाद भी दिया है। उल्लेखनीय है कि पाक की इन दिनों श्रीकरणपुर के आसपास गतिविधियां बढ़ी हैं। रविवार को भी कई लोगों को पाकिस्तानी लोगों के द्वारा मैसेज भेजे गए थे।

पड़ताल, पूरी सरकारी सीरिज के मोबाइल नंबर्स को ही ग्रुप में जोड़ा, सवाल- पाक तक कैसे पहुंचे नंबर

ऐसे हुआ खुलासा: कस्बे के युवक रवि अग्रवाल पुत्र लक्ष्मीनारायण अग्रवाल निवासी वार्ड नंबर 16 मंडी ब्लॉक श्रीकरणपुर की ओर से इस संबंध में पुलिस थाने में परिवाद पेश किया है। जिस में बताया गया कि उसके मोबाइल नंबर 9414500698 को पाकिस्तान के HERE ग्रुप के दो एडमिन पाक नंबर 9230344 18546 व 923089506848 द्वारा ग्रुप में जोड़ लिया गया।

बार-बार डिलीट करने पर भी उसे बार बार जोड़ा जा रहा है। रवि अग्रवाल ने बताया कि इस ग्रुप में काफी भारतीय नंबर भी जोड़े गए हैं। जब इस ग्रुप को खंगाला गया तो इसमें एक ही सीरीज 9414500621 से लेकर इसी सीरीज के 9414501100 तक के सैकड़ों नंबर ग्रुप से जुड़े हुए थे। इसके अलावा भी काफी नंबर इस ग्रुप से जुड़े हुए हैं। जिसमें आम नागरिक, व्यापारी नेता, सरकारी अधिकारी, पुलिस व सेना के जवान भी शामिल हैं।

भास्कर ने ग्रुप में जुड़े लोगों से पूछा तो सब हैरान: इस संबंध में भास्कर द्वारा कुछ पाक व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े हुए लोगों से बातचीत की तो वे दंग रह गए कि उनका नंबर पाकिस्तान के ग्रुप में कैसे जुड़ गया। उन्हें स्वयं इस बात का पता नहीं चला। भास्कर द्वारा 9414500621 नंबर के दुकानदार हरदीप छाबड़ा से जब पूछा गया कि आपका नंबर पाकिस्तान वाट्सएप ग्रुप में है तो उनके पैरों के तले जमीन खिसक गई।

उन्होंने कहा, मुझे तो पता ही नहीं चला कि यह नंबर कैसे जुड़ गया? वही नगर पालिका के कनिष्ठ अभियंता पवन कुमार बुड़ाकिया मोबाइल नंबर 9414500671 तथा कांस्टेबल राजेंद्र पुनिया से उनके नंबर 9414501066 से पूछा गया तो उन्होंने भी हैरानी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि हमें तो इस बात की जानकारी ही नहीं है, कौन से ग्रुप में हमें किसने और कहां जोड़ दिया। फिर उन्होंने तुरंत वाट्सएप ग्रुप से खुद को लेफ्ट करने की बात कही।

पाकिस्तान के नंबर से कॉल आने पर या वाट्सएप ग्रुप से जोड़ने आदि की घटनाओं को लेकर लोगों को सचेत रहना चाहिए । +92 से पाकिस्तान के नंबर शुरू होता हैं लोगों को विदेशी नंबर का विशेष ख्याल रखना चाहिए क्योंकि आईएसआईएस पाकिस्तानी खुफिया के इरादे भारत के प्रति खतरनाक होते हैं और वह मोबाइल के जरिए घुसपैठ करके कोई भी हानि पहुंचा सकते हैं। ऐसी कॉल रिसीव नहीं करें और ना ही वाट्सएप ग्रुप से जुड़े यदि बार-बार ऐसी घटनाएं होती हैं तो उसकी तुरंत पुलिस को सूचना दें। आलोक सिंह, थानाधिकारी, श्रीकरणपुर

एक्सपर्ट व्यू डॉ.मीनल कोचर, साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्टअनजान ग्रुप में जोड़े तो पूरी पड़ताल करें, कोई भी लिंक ओपन न करें

​​​​​​​पाकिस्तान से डायरेक्ट फोन और एसएमएस से धोखाधड़ी के मामले बड़ी संख्या में सामने आए हैं, लेकिन अब पाकिस्तान वाट्सएप का इस्तेमाल कर रहा है। इसमें लॉटरी या इनाम जीतने की बात कहकर एक लिंक भेजा जाता है और उस पर आपके बैंक एकाउंट की पूरी डिटेल मांगी जाती है। इसके बाद हैकर के लिए बैंक एकाउंट को हैक करना बहुत आसान हो जाता है। ऐसे में सावधानी ही बचाव का सबसे बेहतर तरीका है। आप +92 से शुरु होने वाली किसी भी कॉल को कभी अटैंड न करें। अगर बार-बार कॉल आती है तुरंत नंबर ब्लॉक करके पुलिस को सूचना दें। किसी भी अनजान ग्रुप में अगर आपको कोई जोड़ता है तो तत्काल उसकी पड़ताल करें।

खबरें और भी हैं...