पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से थोड़ी सी राहत:7 दिन बाद दो अंकों में (92) रोगी; इनमें 24 बच्चे, 5 कर्मचारी, बैंक व स्कूल बंद करवाए

श्रीगंगानगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक ही दिन में 291 रोगी रिकवर हुए, अब सक्रिय रोगी 1754

काेराेना के लिहाज से सात दिन बाद सोमवार को कुछ राहत मिली। जिले में कोरोना के मरीज दो अंकों में आए। कुल 92 नए मरीज मिले हैं, जबकि सात दिन से यह आंकड़ा 100 से 400 के बीच आ रहा था। नए मिले रोगियों में जीराे से 20 साल तक की आयु वर्ग के 24 बच्चे तथा विभिन्न कार्यालयाें के 5 कर्मचारी भी पाॅजिटिव आए हैं।

केसरीसिंहपुर सीएचसी से डाॅक्टर भी काेविड संक्रमित बताए गए हैं। इधर जिला अस्पताल में साेमवार शाम तक काेविड वार्ड में 10 पाॅजिटिव मरीज उपचाराधीन थे। इनमें से 5 काे ऑक्सीजन स्पाेर्ट पर रखा गया है। छह संदिग्ध काेराेना राेगी भी उपचाराधीन हैं। इनमें से 5 काे ऑक्सीजन स्पाेर्ट पर रखा गया है। दाे मरीज लीला धर्मशाला में उपचाराधीन हैं।

काेविड वार्ड प्रभारी डाॅ. केशव कामरा ने बताया कि सभी 18 मरीजाें की हालत ठीक है और निगरानी में हैं। जिला बुलेटिन के अनुसार साेमवार तक जिले में तीनाें लहर के कुल मरीज 21988 हाे गए हैं। रविवार काे हुई दाे माैताें के साथ आंकड़ा 50 पहुंच गया है। 291 राेगी साेमवार काे रिकवर हाे गए हैं। इसके बाद जिलेभर में कोरोना के 1754 एक्टिव केस रह गए हैं।

लापरवाही, सैंपल दे बाहर घूम रहे लोग, कंटेनमेंट जोन भी नहीं बन रहे

1. मरीज काे बाहर घूमने से काेई राेकटाेक नहीं:काेराेना की पहली और दूसरी लहर में प्रशासन जितना गंभीर था, उतना तीसरी लहर काे लेकर गंभीर नहीं है। जहां पाॅजिटिव अा रहे हैं वहां पर पिछले दाे वर्षाें के अनुभव काे देखते हुए कंटेनमेंट जाेन नहीं बनाए जा रहे। मरीज काे बाहर घूमने से काेई राेकटाेक नहीं है। 2. स्वास्थ्य विभाग मरीजों की नहीं कर रहा निगरानी: गाइडलाइन कहती है कि जिसका सैंपल लिया गया है, उसे संदिग्ध काेविड मरीज मानते हुए रिपाेर्ट आने तक हाेम क्वारेंटाइन किया जाए। यहां लाेग काेविड सैंपल देने के बाद भी अपने राेजमर्रा के काम निपटाते घूम रहे हैं। 3. प्रशासन इस बार सख्त नहीं: दाे रविवार वीकेंड कर्फ्यू बीत चुके लेकिन लाेगाें का सड़काें पर घूमना कम नहीं हुआ। मास्क की अनिवार्यता तथा सामाजिक दूरी की पालना काे प्रशासन की ओर से अभी तक एक बार भी कार्रवाई शुरू नहीं की गई है। पुलिस ही इक्का-दुक्का चालान काटने का काम कर रही है।

रावला पीएनबी शाखा में दो कर्मियों की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद बैंक तीन दिन के लिए बंद: रावलामंडी में पंजाब नेशनल बैंक में दो कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया है। सोमवार दोपहर करीब 2 बजे रिपोर्ट आने के बाद बैंक शाखा को तुरंत बंद कर दिया है। अब बैंक की यह शाखा गुरुवार को खुलेगी।

रायसिंहनगर में बालिका सहित 14 काेराेना पाॅजिटिव, स्कूल काे सेनेटाइज करवा तीन दिन के लिए बंद करवाया :

कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। अब भी लापरवाही बरती जा रही है। सोमवार को आई रिपोर्ट में 14 लोग कोरोना पोजिटिव बताए गए हैं। इनमें मोकमावाला के सरकारी स्कूल की 10वीं कक्षा की एक छात्रा भी पॉजिटिव पाई गई है।

श्रीगंगानगर पंस में एक अधिकारी सहित नाै कर्मचारी काेराेना पाॅजिटिव, कार्यालय तीन दिन के लिए बंद :पंचायत समिति विकास अधिकारी जितेंद्र खुराना ने बताया कि सहायक विकास अधिकारी व आठ कर्मचारी पाॅजिटिव पाए गए हैं। इस पर पंचायत समिति कार्यालय काे 72 घंटाें के लिए ताला लगाकर बंद कर दिया गया है।

पुलिस से सीखिए अनुशासन

तस्वीर श्रीगंगानगर की है। यहां गणतंत्र दिवस की रिहर्सल चल रही है। पुलिस जवान व कैडेट रिहर्सल के दौरान डिस्टेंसिंग तो रख ही रहे हैं, मास्क का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। सब यही अनुशासन अपनाएं, तभी कोरोना हार पाएगा।

सीएमएचओ स्कूलों में गए, बच्चों की सैंपलिंग बढ़ाएंगे

स्कूलों में आ रहे कोविड मरीजों एवं कोविड वैक्सीनेशन की दूसरी डोज को लेकर सीएमएचओ डॉ. मेहरड़ा ने सोमवार को चूनावढ़, 17 जैड, नाथांवाला सहित विभिन्न स्कूलाें का निरीक्षण किया है। उन्हाेंने बताया कि जिले के कुछ स्कूलों में बच्चे पॉजिटिव आ रहे हैं, जिसे लेकर स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं और पाबंद किया गया है कि जहां भी बच्चे पॉजिटिव आएं वहां सेनेटाइजेशन और सैंपलिंग करवाई जाए। उन्होंने परिजनों से कहा है कि वे बच्चों को स्कूल भेजते समय मास्क लगाने व सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने के लिए प्रेरित करें। स्वयं व परिवार में 15 साल से ऊपर वाले बच्चों को कोविड वैक्सीनेशन करवाएं।

खबरें और भी हैं...