पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बच्चों के लिए घातक हो रही तीसरी लहर:297 रोगी: कोरोना से 10 साल की बच्ची सहित 2 माैतें, 2 स्कूलों के 52 बच्चे व स्टाफ संक्रमित

श्रीगंगानगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीविजयनगर के एक प्राइवेट ग्रामीण स्कूल में पढ़ाई करते बच्चे। (फाइल फोटो) - Money Bhaskar
श्रीविजयनगर के एक प्राइवेट ग्रामीण स्कूल में पढ़ाई करते बच्चे। (फाइल फोटो)
  • माता-पिता ध्यान दें; 6 स्कूलों में 200 से ज्यादा बच्चे हो चुके है पॉजिटिव, इसलिए प्रशासन के भरोसे न रहें, वे बस कागजों में ही इसे रोकने को पूरी ताकत लगा रहे हैं

तीसरी लहर श्रीगंगानगर में बच्चों के लिए खतरनाक साबित होती जा रही है। रविवार को कोविड से पहली बार 10 साल की बच्ची समेत दो की मौत हो गई, जबकि 297 नए रोगी मिले हैं। इनमें बच्ची श्रीगंगानगर शहर के वार्ड नंबर 13 की है, जबकि दूसरी मौत रायसिंहनगर में हुई हैै। इसी तरह दो स्कूलों के 52 बच्चे व स्टाफ भी संक्रमित हुआ है। इनमें एक सरकारी स्कूल 10 एलएल का है, जबकि दूसरा निजी स्कूल श्रीगंगानगर मुख्यालय स्थित हनुमानगढ़ रोड का है।

एक्सपर्ट का कहना है कि अब माता-पिता को अपने बच्चों का विशेष ख्याल रखना चाहिए। कारण, अब तक 6 स्कूलों में 200 से ज्यादा बच्चे पॉजिटिव हो चुके हैं, जिनमें 5 स्कूल गांवाें के हैं। फिर भी गांवों में रोज स्कूल लग रहे हैं। न तो सरकार इन स्कूलों को लेकर निर्णय ले रही है और न ही जिला प्रशासन व शिक्षा विभाग। इससे भी बड़ी चिंता यह है कि एक सप्ताह में जितने रोगी मिले हैं, उनमें 20 से 25 फीसदी 18 साल से कम उम्र के हैं।

7 दिन में 1813 पाॅजिटिव, इनमें से 355 बच्चे, औसतन 20%

सबसे ज्यादा 113 रोगी श्रीगंगानगर ग्रामीण इलाकों में, इसके बाद अनूपगढ़ में 87: 297 रोगियों में सर्वाधिक श्रीगंगानगर ग्रामीण इलाकों के हैं। यहां 113 रोगी मिले हैं। वहीं पदमपुर में 16, सूरतगढ़ में 5, अनूपगढ़ में 87, घड़साना में 17, सादुलशहर में 1, रायसिंहनगर में 12, श्रीगंगानगर शहर में 46 संक्रमित पाए गए हैं। इसी तरह हनुमानगढ़ रोड स्थित निजी स्कूल के 26 बच्चे व स्टाफ तथा 10 एलएल में सरकारी स्कूल के 26 बच्चे पाजिटिव हुए हैं। रविवार काे जारी रिपाेर्ट में जिला अस्पताल की एक महिला डाॅक्टर, एक नर्सिंग कर्मी, एसडीएम काेठी का एक कर्मचारी, अनूपगढ़ थाने का कांस्टेबल संक्रमित मिले। चक 4 बीजीएम की 95 साल तथा 3 ई छाेटी की 92 वर्षीय महिला भी पाॅजिटिव पाई गई।

दोनों मृतक श्रीगंगानगर व रायसिंहनगर के निवासी: कोविड वार्ड प्रभारी डा.केएस कामरा ने बताया कि 10 साल की बच्ची पुरानी आबादी वार्ड 13 की है। उसे 18 जनवरी को निमोनिया के कारण यहां अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जांच करवाई गई तो वह कोविड पॉजिटिव भी निकली।

कुछ दिन से वह ऑक्सीजन सपोर्ट पर भी थी। परिजनाें ने बताया कि बच्ची के स्वास्थ्य में 21 जनवरी तक मामूली सुधार हाे रहा था। लेकिन इसके बाद उसकी तबीयत लगातार गिरती गई। ऑक्सीजन सेच्युरेशन बहुत कम हाे गया। इसी तरह रायसिंहनगर के वार्ड 16 निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति को यहां आस्था किडनी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिसने रविवार को दम तोड़ दिया।

एक्सपर्ट व्यू, डॉ. पवन गोयल, शिशु रोग विशेषज्ञ बच्चों को कफ, खांसी और जुकाम हो तो डॉक्टरी सलाह ले

1. कोविड के नए लक्षणों में पेट दर्द, उल्टी, दस्त जैसी समस्या भी सामने आ रही है। अगर बच्चा सुस्ते नजर आता है तो डॉक्टर की सलाह लें और इलाज शुरू करवाएं। 2. बच्चों के फूड डाइट में जरूर बदलाव करें उन्हें हरी सब्जी व फल खिलाएं। 3. परिवार बड़ा है तो कोशिश करें कि वेंटिलेशन, खिड़कियां खुली रखें। ताकि हवा अंदर से बाहर और बाहर से अंदर आ सकें। बंद कमरे में वायरस का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। 4. बच्चों को सूर्य नमस्कार जरूर कराएं। इससे उनका इम्युनिटी लेवल बढ़ेगा। 5. बच्चों पर लगातार नजर रखें। उन्हें थोड़ा सा कफ, खांसी, बुखार या जुकाम होने पर बेसिक इलाज शुरू करे दें। 6. बच्चों को साफ-सफाई के बारे में बताएं। उन्हें इस बीमारी से अवगत कराकर सुरक्षा के गुर दें। बच्चों को ठंडी चीजें न खिलाएं। घर से बाहर निकले तो हमेशा मास्क का प्रयोग करें।

खबरें और भी हैं...