पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विधायकों के आवास के बाहर धरना शुरू:उर्दू पैराटीचर्स ने की नियमित करने की मांग,सरकार पर लगाया वादा खिलाफी का आरोप

सीकर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीकर विधायक आवास के बाहर धरने पर बैठे पैराटीचर्स। - Money Bhaskar
सीकर विधायक आवास के बाहर धरने पर बैठे पैराटीचर्स।

पैरा टीचर्स ने नौकरी में नियमितीकरण की मांग को लेकर रविवार को धरना दिया। पैराटीचर्स का कहना है कि सरकार ने तीन साल पहले उर्दू पैराटीचर्स को नौकरी में नियमित करने की घोषणा की थी। मगर अब तकसरकार ने मांग को पूरा नहीं किया। इससे पहले 15 अक्टूबर से जयपुर के शहीद स्मारक पर धरना शुरू किया था। मांग पूरी नहीं करने पर अब मदरसा पैरा टीचर्स यूनियन के राज्यव्यापी आह्वान पर 200 विधायकों के आवास के बाहर धरना शुरू किया गया।

सीकर में पैरा टीचर्स ने विधायक राजेंद्र पारीक और फतेहपुर विधायक हाकम अली खां के घर के बाहर धरना शुरू किया है। मदरसा पैरा टीचर्स यूनियन के जिलाध्यक्ष मोहम्मद रफीक ने बताया कि राजस्थान सरकार ने साल 2018 में बजट घोषणा पत्र में उर्दू पैरा टीचर्स को नियमित करने की घोषणा की थी। जिसके लिए पिछले साल यूनियन के पैरा टीचर्स ने नियमितीकरण की मांग को लेकर आंदोलन करते हुए दांडी यात्रा भी निकाली थी।

30 नवंबर 2020 को राज्य सरकार के निर्देश पर खानु खां बुधावली ने यह आश्वासन दिया कि 30 सितंबर 2021 तक सभी उर्दू पैरा टीचर्स को नियमित कर दिया जाएगा। इसके बाद भी नियमित नहीं किया गया। जिसके विरोध में 15 अक्टूबर से पैरा टीचर्स का जयपुर के शहीद स्मारक पर धरना जारी है। धरने के 25 दिन बाद तक भी सरकार ने कोई सुनवाई नहीं की है।