पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी पहल:प्रदेश के हर जिले में मिलेगा प्रदूषण और मौसम का ताजा हाल, जुलाई से शुरुआत

सीकर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नमें सिल्वर स्क्रीन के जरिए शहर के पाॅल्यूशन व माैसम की ताजा जानकारी डिस्प्ले होगी। - Money Bhaskar
नमें सिल्वर स्क्रीन के जरिए शहर के पाॅल्यूशन व माैसम की ताजा जानकारी डिस्प्ले होगी।

प्रदेश की जनता काे पाॅल्यूशन व मौसम की ताजा जानकारी उपलब्ध कराने के लिए प्रदूषण नियंत्रण बाेर्ड हर जिला मुख्यालय पर ऑटाेमैटिक कंटिन्यूएस पाॅल्यूशन स्टेशन स्थापित करा रहा है। इनमें सिल्वर स्क्रीन के जरिए शहर के पाॅल्यूशन व माैसम की ताजा जानकारी डिस्प्ले होगी।

प्रत्येक जिले में ऑटाेमैटिककंटिन्यूएस पाॅल्यूशन नियंत्रण कक्ष स्थापित करने पर 1 कराेड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इनका कार्य अंतिम चरण में है। जुलाई के प्रथम पखवाड़े में सभी 33 जिलाें में ये स्टेशन शुरू हो जाएंगे। स्टेशन के अधीन प्रत्येक जिला मुख्यालय की घनी आबादी व रीकाे क्षेत्र में अलग-अलग स्थानाें पर दाे डिस्पले बाेर्ड लगेंगे।

मुख्य वैज्ञानिक अधिकारी विक्रम सिंह परिहार का कहना है कि काेटा व अलवर में 2-2, जाेधपुर में 5 व जयपुर में 6 स्टेशन स्थापित करवाए गए हैं। सभी स्टेशनाें काे जयपुर मुख्यालय से कनेक्ट किया गया है। यहां वैज्ञानिक प्रदेशभर की माॅनिटरिंग कर प्रत्येक 24 घंटे से माैसम की तरह पाॅल्यूशन बुलेटिन भी जारी करेंगे।

पाॅल्यूशन के साथ वेदर की रिपाेर्ट भी हाेगी अपडेट
हर स्टेशन पर 12 फीट लंबी स्क्रीन होगी। माैसम-पाॅल्यूशन से जुड़ी 7-7 तरह की अपडेट जानकारी मिलेगी। पाॅल्यूशन से जुड़ी पीएम-10, पीएम 2.5, कार्बन, अमाेनिया, ओजाेन, सल्फर ऑक्साइड, नाइट्राेजन की जानकारी तथा माैसम में आद्रता, हवा की दिशा, तापमान, हवा की रफ्तार, बारिश व बादलाें का अलर्ट आदि जानकारी हर 10 से 50 मिनट में अपडेट हाेगी। {ग्रामीण इलाकाें में माेबाइल वैन से माॅनिटरिंग हाेगी।

कंटिन्यूएस माॅनिटरिंग स्टेशन के साथ प्रदेश के ग्रामीण इलाकाें में पाॅल्यूशन की जानकारी अपडेट रखने के लिए प्रदूषण नियंत्रण बाेर्ड द्वारा माेबाइल वैन के जरिए माॅनिटरिंग की जाएगी। इसके लिए विभाग द्वारा प्रदेशभर में दाे माेबाइल वैन की भी व्यवस्था की गई है। माेबाइल वैन उन इलाकाें की विशेष माॅनीटरिंग रखेगी जहां से पाॅल्यूशन से जुड़ी ज्यादा शिकायत हाेंगी।