पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार की छात्रा हॉस्टल की 5वीं मंजिल से कूदी, मौत:मेडिकल स्टूडेंट क्लास नहीं जाती थी, परेशान पिता वापस लेने आए थे

मधेपुरा/कोटा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक छात्रा ने कोटा में शनिवार को हॉस्टल की 5वीं मंजिल से कूदकर जान दे दी। 17 साल की शिखा यादव कोटा में मेडिकल की तैयारी कर रही थीं। एक दिन पहले ही पिता सर्वेश कुमार बेटी को अपने साथ ले जाने के लिए बिहार से कोटा आए थे। इस बात को लेकर दोनों में बहस हुई थी। माना जा रहा है कि इसी से गुस्सा होकर छात्रा ने सुसाइड कर ली।

कोटा में छात्रा के सुसाइड का VIDEO

शिखा बिहार के मधेपुरा की रहने वाली थीं

घटना लैंडमार्क सिटी की है। सूचना पर कुन्हाड़ी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। शव को एमबीएस की मोर्चरी में शिफ्ट करवाया। शिखा बिहार के आनंद विहार, वार्ड नंबर 3, मधेपुरा की रहने वाली थी। कुन्हाड़ी थाना सीआई गंगासहाय शर्मा ने बताया कि शव को एमबीएस की मोर्चरी में रखवाया। फिलहाल आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है।

पिता सामान पैक कर चाय पीने चले गए। इसी दौरान शिखा बिल्डिंग की पांचवीं मंजिल पर गई और बालकनी से कूद गई।
पिता सामान पैक कर चाय पीने चले गए। इसी दौरान शिखा बिल्डिंग की पांचवीं मंजिल पर गई और बालकनी से कूद गई।

शिखा कोटा में एक साल से थी, लेकिन अप्रैल में ही हॉस्टल में रहने आई थी। वह पहली मंजिल पर रहती थी। कोचिंग कम ही जाती थी। इस कारण उसके पिता उसको लेने आए थे। शनिवार दोपहर 12 बजे वापस जाने का रिजर्वेशन था। पिता सामान पैक कर के नीचे लाए, फिर चाय पीने चले गए। इसी दौरान शिखा बिल्डिंग की पांचवीं मंजिल पर गई और बालकनी से कूद गई। लोगों के चिल्लाने की आवाज सुनकर पिता भी बाहर दौड़े। छात्रा ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

पढ़ाई में अच्छी थी

शिखा यादव 10th पास कर कोटा में मेडिकल की तैयारी करने गई थी। शिखा का एक बड़ा भाई प्रिंस है। पिता सर्वेश यादव सरकारी शिक्षक है और मां हाउस वाइफ है। दो दिन पहले ही मां अपने मायके गई थी। फोन पर बात करते हुए वो रोने लगी। वो कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं है। पड़ोसी शशि यादव ने बताया कि शिखा पढ़ने में काफी अच्छी थी। आज जब उसकी मौत की सूचना मिली तो उसके पिता को भी फोन किया गया। लेकिन वे कुछ बोल पाने की स्थिति में नहीं थे।