पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60364.83-0.64 %
  • NIFTY18053.85-0.33 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

अमेजन डिलीवरी ब्वॉय ने की थी पॉश कॉलोनी में लूट:डोर बेल बजाकर बोला- पिज्जा ऑर्डर किया था न, गेट खुला तो धक्का देकर घुसा

जोधपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस के शिकंजे में लूट के आरोपी। - Money Bhaskar
पुलिस के शिकंजे में लूट के आरोपी।

जोधपुर की पॉश कॉलोनी शास्त्रीनगर में 20 दिन पहले एक बंगले में हुई लूट का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। लुटेरों का सरगना बंगले मालिक के ऑफिस में कुछ माह काम कर चुका है। वर्तमान में अमेजन का डिलीवरी ब्वॉय है। सरगना ने सहयोगियों से मिलकर बंगले में लूट की योजना बनाई थी। अब पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने झालामंड निवासी अनिल उर्फ भाहला पुत्र जेठाराम इस्माइल उर्फ पठान पुत्र सदीक खां, सुनिल सिंह पुत्र गुमान सिंह रावणा राजपूत व कमला नेहरू कॉलोनी निवासी जसवंत सिंह गहलोत पुत्र भवानी सिंह दस्तयाब किया। पूछताछ में पता चला कि लूट का मुख्य आरोपी जसवंत सिंह गहलोत निवासी इसाइयों का कब्रिस्तान जोधपुर है। लॉकडाउन से पहले 6-7 माह पीड़ित अर्पित कोठारी के ऑफिस में काम किया करता था। उसके बाद स्वीगी में डिलीवरी ब्वॉय रहा था अभी अमेजन कम्पनी में डिलीवरी ब्वॉय है। इसी ने इस्माइल उर्फ पठान व अनिल उर्फ भाहला आदि को प्रार्थी के पॉश इलाके में स्थित मकान में भारी मात्रा में रुपए होने की जानकारी देकर डकैती की योजना बनाई थी। पुलिस ने वारदात के 20 दिन में ही खुलासा कर दिया।

यह था मामला

11 नवम्बर को 275 शास्त्री नगर सेक्टर ए निवासी अर्पित कोठारी पुत्र महावीर कोठारी ने रिपोर्ट दी। उन्होंने बताया कि 10 नवम्बर रात को करीब 8:25 बजे एक व्यक्ति ने बेल बजाया। पिज्जा ऑर्डर का बहाना कर घर का दरवाजा खुलवाया। उसके साथ 3 अन्य व्यक्ति घर में घुसकर उसकी पत्नी को धक्का देकर नीचे गिरा दिया। उसने बताया कि उसकी पत्नी व मां के साथ मारपीट कर व हथियार से डरा धमकाकर करीब डेढ़ से दो लाख रुपए की दो अंगूठियां लूटकर ले गए। जाते समय तीनों के मोबाइल भी ले लिए। इनमें से दो मोबाइल बाहर जूतों की रैक में व एक घर से थोड़ी दूर रास्ते में फेंक दिया।

रास्ते के हर सीसीटीवी का फुटेज खंगाला

एमओबी टीम व एफएसएल से घटनास्थल का मौका मुआयना करवाया गया। घटना की सूचना के तुरंत बाद ही मौके पर पहुंचकर टीम ने मकान के आसपास व घटनास्थल की तरफ आने वाले सभी रास्तों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। हाईवे, टोल नाके व ढाबों पर लगे सीसीटीवी फुटेज चेक किए गए। संभावित स्थानों पर दबिश दी गई। जोधपुर व आसपास के चालानशुदा एवं जेल से रिहा हुए अपराधियों से पूछताछ की गई। संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की गई।

खबरें और भी हैं...