पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बचपन बचाओ अभियान:मानव तस्करी विरोधी यूनिट ने छुडाए 5 बाल श्रमिक

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डेमो फोटो। - Money Bhaskar
डेमो फोटो।

पुलिस मुख्यालय के बचपन बचाओ अभियान के तहत मानव तस्करी विरोधी यूनिट (पूर्व) और एक स्वयंसेवी संगठन की संयुक्त कार्रवाई कर गुरुवार को बनाड़ रोड पर सब्जी की दुकान से पांच बाल श्रमिकों को मुक्त कराया। दुकान संचालक के खिलाफ बनाड़ थाने में मामला दर्ज कराया गया। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त विशेष महिला अनुसंधान सैल निशांत भारद्वाज ने बताया कि बनाड़ रोड पर निजी अस्पताल के सामने जय भवानी सब्जी भण्डार में बच्चों से मजदूरी करवाए जाने की सूचना मिली। एक्सेस टू जस्टिस फॉर चिल्ड्रन के किशन खुड़िवाल के साथ मानव तस्करी विरोधी यूनिट (पूर्व) ने तस्दीक के बाद सब्जी भण्डार पर दबिश दी, जहां पांच नाबालिग मजदूरी करते पाए गए। जिन्हें मुक्त करवाकर बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश कर अस्थाई तौर पर बाल आश्रय गृह भिजवाया गया। सब्जी भण्डार संचालक मोहन सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया।

सुबह 7 से रात नौ बजे तक काम: पुलिस ने बच्चों से बात की तो सामने आया कि उनसे सुबह 7 से रात नौ बजे तक मजदूरी करवाई जाती है। सुबह 6-7 बजे मण्डी से टैक्सियों में सब्जी से भरे कट्टे लाए जाते हैं। फिर उनसे सब्जियों की धुलाई कराई जाती थी। उन्हें अलग-अलग करके रखने के साथ ही ग्राहकों को पैक करने आदि का काम कराया जाता था। बाल श्रमिक पिछले एक माह से दुकान पर काम कर रहे थे। बदले में उन्हें पांच पांच हजार रुपए देते थे।