पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वीकेंड कर्फ्यू:तीसरी लहर का पहला वीकेंड कर्फ्यू ... सफल बंद कर दिखाई जागरूकता, रोडवेज बसों के 12 फेरे निरस्त

टोंक4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दोपहर बाद अचानक यात्रीभार बढ़ने लगा :

कोरोना से बचाव को लेकर रविवार को लगाए गए जन-अनुशासन कर्फ्यू का असर रोडवेज में भी देखने को मिला। आलम यह था कि दोपहर तक बसों में महज नाम के यात्री सवार दिखाई दिए। इसके चलते आगार अधिकारियों ने सुबह संचालित किए जाने वाले जयपुर-कोटा व अन्य मार्गों के 12 फेरे निरस्त कर दिए। रोडवेज बस स्टैंड प्रभारी सत्यनारायण जाट ने बताया कि सुबह जयपुर मार्ग पर 8 कोटा मार्ग में 2 मालपुरा मार्ग में 2 फेरे निरस्त करने पड़े। बाद में यात्रीभार बढ़ने पर जयपुर मार्ग पर अतिरिक्त बसें संचालित करनी पड़ी। इतना ही नहीं जिले से गुजर रही अन्य आगारों की बसों में भी यात्रीभार कम ही रहा।

लोगों की आवाजाही बेहद कम रही : जिले में छह माह बाद कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए रविवार को वीकेंड कर्फ्यू लगाया गया। इसमें अधिकांश जगह हालांकि बाजारों में इक्का-दुक्का ही लोग नजर आए। लेकिन गली मोहल्लों में चहल-पहल अधिक नजर आई। रविवार सुबह से ही बाजारों एवं मुख्य मार्गोँ में पुलिस गश्त करती नजर आई। लोगों को समझाने एवं चालान आदि भी किए गए। लेकिन कई जगह स्थिति ये रही कि लोग सर्द मौसम में भी घरों से बेवजह निकलते दिखाई दिए। हालांकि जन अनुशासन कर्फ्यू मौसम के कारण सफल नजर आया। लोग जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकलते नजर आए।

खबरें और भी हैं...