पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीएम का मोदी और केन्द्र पर हमला:गहलोत बोले देशवासियों को एक दिन कांग्रेस के हवाले करना होगा देश,आज मोदी कर रहे मन की बात, 2024 में देश की जनता मन की बात कहेगी तब अहसास होगा

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का सम्बोधन

लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में कांग्रेस के मौन पैदल मार्च के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार और बीजेपी पर जमकर प्रहार किए। गहलोत ने कहा-लखीमपुर खीरी की घटना ने देश को हिलाकर रख दिया है। प्रियंका गांधी के साथ जिस तरह का व्यवहार पुलिसवालों ने किया वह निंदनीय है। मैंने खुद वीडियो देखा है, प्रियंका गांधी और दीपेंद्र हुड्डा के साथ किस तरह का बर्ताव हो रहा था। अब उन्हें मैसेज देने का वक्त आ गया है। आज मोदीजी मन की बात कर रहे हैं, 2024 में देश की जनता मन की बात करके इन्हें आईना दिखाएगी। उन्होंने कहा देश का डीएनए और कांग्रेस का डीएनए एक हैं।

केन्द्र सरकार ने किसानों से किए वादे पूरे नहीं किए-गहलोत

गहलोत ने कहा- केंद्र सरकार ने किसानों से किए वादे पूरे नहीं किए। केंद्र ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था। आज बीजेपी वाले कहते हैं कि कांग्रेस कहां है, कांग्रेस हर घर और हर गांव में हैं। कांग्रेस और देश का डीएनए एक है। आखिर में तो देशवासियों को कांग्रेस के हवाले देश देना पड़ेगा। आज तक जब-जब फासिस्ट ताकतें आई हैं,वो वापस गई हैं, उनका पता ही नहीं लगा। कांग्रेस जो नीतियां कार्यक्रम चला रही है, वे देश का डीएनए लेकर बनाई गई हैं। इंदिरा गांधी, राजीव गांधी शहीद हो गए लेकिन 15 साल में राहुल गांधी ने कभी नहीं बोला। वे शहीदों के बच्च्चे हैं जिन्होंने देश के लिए जान दी।

आरएसएस और बीजेपी की नीतियों पर निशाना

गहलोत ने कहा- आरएसएस के लोग जिस तरह सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के बारे में हलकी बातें चला रहे हैं। ​पंडित नेहरू जिन्होंने देश के लिए कई साल जेल में बिताए,लेकिन इन्होंने नेहरू को भी नहीं छोड़ा। अब देश इन्हें भी नहीं छोड़ेगा। उन्होंने कांग्रेस नेताओं से कहा कि आप किसानों के बीच में जाएं। आने वाले वक्त में और बड़ा आंदोलन खड़ा करने के लिए आपको तैयार रहना होगा।

राज्यपाल के यहां अटके हुए हैं हमारे कृषि कानून

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि देश के किसान राजधानी दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं। उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है।हरियाणा में किसानों पर लाठीचार्ज हुआ।केन्द्र में तीन काले कृषि कानून लाए गए। राजस्थान में हमारी कांग्रेस सरकार इन कानूनों के खिलाफ कृषि कानून लेकर आई, लेकिन वो राजस्थान के राज्यपाल महोदय के यहां अटके हुए हैं।

8 लोग मारे गए लखीमपुर खीरी में हद हो गई

गहलोत ने कहा कि लखीमपुर में तो हद हो गई । 8 लोग मारे गए हैं। किस तरह लोगों को कुचला जा रहा है। बड़ी भयावह स्थिति है।देश खतरे में है।लोकतंत्र खतरे में है।संविधान खतरे में है। गहलोत ने आरोप लगाया कि मोदी जी लच्छेदार भाषण से देश को गुमराह कर रहे हैं। देश में कानून व्यवस्था गिर रही है।यूपी के सीएम भी मोदी की तरह काम कर रहे हैं। कांग्रेस के भी तीन कार्यकर्ता गिरफ्तार हुए हैं। अब समय आ गया है कि हम दिल्ली को दिखा दें जिससे उसका भ्रम टूट जाए। गहलोत ने कहा हमने वो वक्त भी देखा है जब इंदिरा गांधी भी चुनाव हार गई थीं। ढाई साल में फिर वापस सत्ता में आए। आज मोदी जी मन की बात कर रहे हैं। लेकिन 2024 में जनता मन की बात करेगी।

खबरें और भी हैं...