पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX56747.14-1.65 %
  • NIFTY16912.25-1.65 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %
  • Business News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • The Servants Of The Temple Committed The Crime To Pay Off The Betting Loan, The Silver Utensils Were Melted And Made Into A Plate, Two Youths And Junk Were Arrested

जयपुर के 3 जैन मंदिर में चोरी का खुलासा:मंदिर के सेवादारों ने सट्‌टे का कर्जा उतारने के लिए की वारदात, चांदी के बर्तनों को गला कर प्लेट बना ली, दो युवक व कबाड़ी गिरफ्तार

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में चोर। - Money Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में चोर।

जयपुर के तीनों जैन मंदिर में हुई चोरियों का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। मंदिर के सेवादारों ने ही चोरी की योजना बनाई थी। पुलिस ने दो युवक व एक कबाड़ी को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों ने सट्‌टे का कर्जा उतारने के लिए चोरी की वारदात की। चोरी कर माल कबाड़ी को बेच दिया था। मंदिर से चांदी के बर्तनों व मूर्तियों को गला कर 15 चांदी के प्लेट बना ली थी।

डीसीपी नॉर्थ परिस देशमुख ने बताया कि दीपक जैन, सचिन जैन व लालू कबाड़ी निवासी कमालगंज फर्रूखाबाद उत्तरप्रदेश को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने 15 किलो चांदी, मंदिर से चोरी चांदी के बर्तन व 26750 रुपए बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि अनिल दीवान (68) निवासी दीवान जी की नसियां ने 10 सितम्बर को चोरी की रिपोर्ट दी थी। लालजी का सांड के रास्ते में दिगंबर जैन मंदिर बना हुआ है। मंदिर 43 किलो की पंचमेरू व बर्तन चोरी हो गए। उन्होंने दीपक जैन व सचिन जैन पर चोरी करने का शक जताया। ये दोनों जुलाई में गांव चले गए थे और अब तक वापस नहीं आए है।

पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। जांच के लिए दो टीमें बनाई गई। एएसआई ताराचंद, हेड कांस्टेबल सुरेश को जबलपुर मध्यप्रदेश भेजा गया। दूसरी टीम ने जयपुर में ही तलाश की। पुलिस ने दीपक जैन व सचिन जैन को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को कोर्ट में पेश कर 20 सितम्बर तक रिमांड पर लिया गया। दोनों से पूछताछ के बाद लालू कबाड़ी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने 15 किलो चांदी के बर्तन व 26750 रुपए बरामद कर लिए। लालू ने चांदी के बतर्न उत्तरप्रदेश में भिजवा दिए थे।

दोनों ने बताया कि वे काफी नशा करते है। दोनों सट्‌टा लगाते है। सट्‌टे के कारण दोनों एमपी व जयपुर में काफी कर्जा हो गया था। उन्हें कर्जा चुकाने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। तब उन्होंने कर्जा उतारने के लिए चोरी करने की योजना बनाई। तीनों मंदिर के सेवादारों ने लॉकडाउन का फायदा उठा कर मंदिर में चोरी की।

खबरें और भी हैं...