पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राजस्थान में आज से शुरू होगी बारिश:उदयपुर संभाग में भारी बारिश का अलर्ट; राजस्थान के 80 फीसदी एरिया में छाए बादल

जयपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
माउंट आबू के गुरु शिखर की पहाड़ी से बादल नजर आ रहे हैं। प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन में भी सर्दी का असर देखने को मिला। - Money Bhaskar
माउंट आबू के गुरु शिखर की पहाड़ी से बादल नजर आ रहे हैं। प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन में भी सर्दी का असर देखने को मिला।

अरब सागर में बने लो प्रेशर सिस्टम का असर आज से गुजरात, राजस्थान समेत उत्तर भारत के सभी राज्यों में दिख रहा है। मौसम विभाग ने 11 जिलों में बारिश की संभावना जताई है। अगले कुछ घंटों में भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा,पाली, टोंक, बूंदी, अजमेर कई जिलों और आसपास के क्षेत्रों में कहीं-कहीं पर हल्की बारिश की संभावना है, वहीं, उदयपुर के लिए मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

राजस्थान के 80 फीसदी एरिया में सुबह से घने बादल छाए हुए हैं। बादल छाने की वजह से राजस्थान के ज्यादातर इलाकों में न्यूनतम तापमान बढ़ गया है। शेखावाटी एरिया के इलाकों में रात के पारे में 6 डिग्री से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि दिन के तापमान में कमी आएगी। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो 3 दिसंबर तक प्रदेश के अधिकांश शहरों में दिन का तापमान 20 से 24 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। वहीं कुछ शहरों में तो यह 20 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे जा सकता है।

बुधवार सुबह फतेहपुर में सबसे कम तापमान दर्ज किया गया। यहां न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि एक दिन पहले यहां न्यूनतम तापमान 2.6 डिग्री पर पहुंच गया था।

अब आगे क्या?

  • जयपुर मौसम केन्द्र के मुताबिक राज्य में आज से एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो गया है। वहीं, अरब सागर में बने लो प्रेशर सिस्टम के कारण दक्षिणी और दक्षिण पूर्वी राजस्थान के जोधपुर, कोटा, उदयपुर, जयपुर और भरतपुर संभाग में 1 दिसंबर से 3 दिसंबर तक बादल छाए रहने और कहीं-कहीं बारिश होने की संभावना है।
  • 2 दिसंबर को जोधपुर, कोटा, जयपुर, उदयपुर और अजमेर संभाग के जिलों में बारिश होने के साथ कहीं-कहीं आकाशीय बिजली गिर सकती है। वहीं उदयपुर संभाग में एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने की आशंका जताई है।
  • 3 दिसंबर को पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश होने की संभावना है और उसके बाद 4 दिसंबर को एक बार वापस राज्य में मौसम साफ होने लगेगा और फिर ठंड बढ़ेगी।