पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58461.291.35 %
  • NIFTY17401.651.37 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47394-0.41 %
  • SILVER(MCX 1 KG)60655-1.89 %
  • Business News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Government To Pay Gratuity And Other Arrears Of Rs 476 Crore Before Diwali; Approval Of 200 Crores Issued, 260 Crores Will Be Given By Taking Loan

रोडवेज कर्मचारियों के लिए खबर:सरकार दीपावली से पहले ग्रेच्युटी और अन्य बकाया 476 करोड़ रुपए देगी; 200 करोड़ की स्वीकृति जारी की, 260 करोड़ लोन लेकर देगी

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Money Bhaskar
फाइल फोटो।

राजस्थान रोडवेज के रिटायर्ड कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। रिटायर्ड हुए 5500 कर्मचारियों, अधिकारियों का ग्रेच्युटी, छटि्टयों का पैसा, एरियर सहित अन्य बकाया भुगतान दीपावली से पहले मिल जाएगा। भुगतान के लिए राज्य सरकार ने 476 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज 200 करोड़ रुपए वित्त विभाग से स्वीकृत करते हुए शेष 260 करोड़ रुपए का लोन लेकर दीपावली से पहले भुगतान करने के निर्देश दिए है।

मुख्यमंत्री निवास पर आज राजस्थान समीक्षा करते हुए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि रोडवेज से रिटायर्ड हुए करीब 5500 कर्मचारियों का लम्बे समय से ग्रेच्युटी और अन्य परिलाभ बकाया चल रहा है। इसकी कुल राशि लगभग 460 करोड़ रुपए के लगभग है। उन्होंने बताया कि पिछले कई साल से कर्मचारी इस बकाया भुगतान की मांग कर रहे है और कई बार धरने-प्रदर्शन और आंदोलन भी कर चुके है। इस पर मुख्यमंत्री ने सभी बातों पर सहमति जताते हुए दीपावली से पहले बकाया भुगतान के निर्देश देते हुए हाथों हाथ वित्त विभाग को 200 करोड़ रुपए स्वीकृत करने और शेष 260 करोड़ रुपए का लोन लेकर देने के निर्देश दिए।

आरएसआरटीसी ऑफिसर एसोसिएशन ने इस निर्णय का आभार जताया है। एसोसिएशन के महामंत्री सुधीर भाटी ने बताया कि साल 2016 से यह बकाया चल रहा है। इसको लेकर कर्मचारी लम्बे समय से आंदोलन भी कर रहे है। आज मुख्यमंत्री ने कर्मचारियों-अधिकारियों की इस मांग को पूरा करके रोडवेज और कर्मचारियों के हितों में निर्णय किया है।

पटवार भर्ती के समय बस नहीं चलाने की दी थी चेतावनी

जयपुर में पिछले दिनों रिटायर्ड रोडवेज कर्मचारियों के साथ-साथ वर्तमान में सेवारत कर्मचारियों ने आंदोलन किया था। इस दौरान कर्मचारी संगठनों ने पटवार भर्ती वाले दिन रोडवेज बसें नहीं चलाने की भी चेतावनी दी थी। कर्मचारियों ने 27 अक्टूबर को एक दिवसीय हड़ताल पर जाने का एलान किया था।

खबरें और भी हैं...