पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Filled Diesel Worth Thousands Of Rupees By Asking The Cab Driver's Paytm Password, Snatched Cash, Mobile And Other Documents And Slammed The Moving Car On The Road

कैब चालक का अपहरण कर मारपीट:पेटीएम से पासवर्ड पूछकर हजारों रुपयों का डीजल भराया, कैश-मोबाइल छीनकर सड़क पर पटका

जयपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कैब चालक सूरजमल सैनी।

जयपुर में कैब चालक युवक का अपहरण कर बंधक बनाकर लूटने की बड़ी वारदात सामने आई है। मामले के अनुसार बुधवार रात करीब 11 बजे सिंधी कैंप पर उसे तीन युवकों ने सिरसी रोड जाने के लिए दौसा निवासी सूरजमल सैनी की कैब बुक की। रात करीब बारह बजे कैब चालक सिरसी रोड जाने के लिए तीनों युवकों को लेकर निकला। थोड़ी ही दूर जाकर दो सवारियों ने कार साइड में रुकवाई। टॉयलेट करने के लिए कार से उतरे। जैसे ही दोनों उतरे तो तीसरा युवक भी उतर गया। उसके बाद तीनों ने कैब चालक को कार से बाहर निकाला और उसे जमकर पीटा।

बदमाशों ने कैब चालक के हाथ, पैर और मुंह बांधकर उसे कार के पिछले हिस्से में सीट के नीचे पटक दिया। बदमाशों ने उसे घंटों उसकी ही कार में पिछली सीट के नीचे बंधक बनाए रखा, उसके ही पेटीएम से पासवर्ड पूछकर हजारों रुपयों का डीजल भराया उसके बाद उससे कैश, मोबाइल और अन्य दस्तावेज छीनकर उसे पूरे शहर में घुमाते हुए तीनों बदमाश दिल्ली रोड तक ले गए। फिर बदमाशों ने कैब चालक को सीकर के पाटन इलाके में सड़क पर पटक कर फरार हो गए। कैब चालक ने सीकर के पाटन में जीरो एफआईआर दर्ज करवाई और उसके बाद कल सिंधी कैंप थाने में मामला दर्ज हुआ। सिंधी कैंप थाना पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

देर रात शहर में कार को घुमाते रहे मगर कहीं भी पुलिस ने नहीं रोका

कैब चालक को बदमाश देर रात पूरे शहर में घुमाते हुए दिल्ली रोड की तरफ ले गए मगर शहर में जगह जगह नाकाबंदी और नाइट कर्फ्यू के के बावजूद किसी भी जगह पर पुलिस ने नहीं रोका। सिंधी कैंप थानाधिकारी गुंजन सोनी ने बताया कि दौसा निवासी सूरज मल सैनी जयपुर और आसपास के क्षेत्र में टैक्सी चलाता था। उसके पास स्विफ्ट डिजायर कार है जो कुछ समय पहले ही खरीदी गई थी।

बुधवार की रात बदमाशों ने कैब चालक सूरज मल सैनी का अपहरण किया और दिल्ली रोड की तरफ ले गए और चालक को सीकर के पाटन इलाके में चलती कार से सडक पर फेंक दिया। उसके पास से पांच हजार रुपए, मोबाइल और पर्स एवं उसके दस्तावेज लूट लिए। उसने जैसे-तैसे पुलिस को सूचना दी। चौबीस घंटे से भी ज्यादा समय से पुलिस लूटी गई कैब और बदमाशों की तलाश कर रही है लेकिन लुटेरों को पता नहीं लग सका है।

खबरें और भी हैं...