पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61832.270.86 %
  • NIFTY184880.81 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %

जयपुर में सरकार के खिलाफ सड़क पर छात्र:बेरोजगारी भत्ता और नौकरी में राजस्थान के युवाओं को 75% आरक्षण मिले, 7 दिन में मांगें नहीं माने जाने पर दी तेज आंदोलन की चेतावनी

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
22  गोदाम सर्किल पर विरोध करते छात्र। - Money Bhaskar
22 गोदाम सर्किल पर विरोध करते छात्र।

राजस्थान के विद्यार्थियों की 10 सूत्री मांगों को लेकर छात्र नेता रविंद्र सिंह भाटी के नेतृत्व में सैकड़ों छात्रों ने जयपुर में प्रदर्शन किया। सोमवार को जयपुर के शहीद स्मारक से शुरू हुआ छात्रों का पैदल मार्च 22 गोदाम सर्किल पंहुचा, जहां पुलिस ने रोक दिया। इस दौरान सैकड़ों छात्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। छात्रों का प्रतिनिधिमंडल विधानसभा पहुंचा, जहां सरकार से वार्ता के बाद छात्रों का विरोध ख़त्म हुआ।

रविंद्र सिंह भाटी ने कहा कि हमारे सारे माननीय मंत्री, विधायक ऐशो आराम में लगे हैं। स्टूडेंट्स भरी धूप में पिछले 4-5 घंटों से प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार में कोई सुध लेने को तैयार नहीं है। पिछले 4 घंटे से प्रशासन ने युवाओं को रोकने का प्रयास किया और उनके साथ अभद्र व्यवहार किया है। लेकिन फिर भी स्टूडेंट्स ने शांति और व्यवस्था बनाए रखकर अनुशासन के साथ अपना विरोध दर्ज करवाया है। जब वार्ता की बात आई तो हमारा डेलिगेशन विधानसभा में सरकार से मिलने आया, लेकिन प्रदेश के मुखिया, मंत्री विधायक विधानसभा में बैैठे हैं। उन्हें नहीं पता है कि स्टूडेंट्स की क्या हालत हो रही है। यहां पर कोई सुध लेने वाला नहीं है। इससे बड़ा दुर्भाग्य क्या होगा।

उन्होंने आरोप लगाया कि विधानसभा में कोई भी स्टूडेंट्स की सुनने वाला नहीं है और सरकार के नुमाइंदे सो रहे हैं। भाटी ने कहा- हमारे प्रतिनिधिमंडल को बुलाया गया था। लेकिन यहां पर काफी देर तक बैठाकर रखा गया। जब हमने कहा कि हम यहां मेहमान नवाजी करवाने नहीं आए हैं। हमारी जायज़ मांगें हैं उन पर एक्शन लें। सरकार की ओर से जो भी संबंधित अफसर और मंत्री हैं, उन्हें हम से बात करने के लिए बुलाएं। अगर हमारी मांगें सही हैं तो हमारे हक में न्यायोचित बात करें। स्टूडेंट्स के मूवमेंट को कुचलने, लाठीचार्ज और दबाने का प्रयास नहीं करने चाहिए। जब हम दबे नहीं, तो ये हथकण्डे अपनाने शुरू किए गए हैं।

शहीद स्मारक पर विरोध करते छात्र।
शहीद स्मारक पर विरोध करते छात्र।

बेरोजगारों को मिले भत्ता
रविंद्र सिंह भाटी ने कहा कि राजस्थान में 15 लाख से ज्यादा बेरोजगार पंजीकृत हैं। इसमें 12 लाख 24 हजार पोस्ट ग्रेजुएट हैं। सिर्फ 1 लाख 60 हजार को ही बेरोजगारी भत्ता मिल रहा है। रविंद्र ने कहा कि राजस्थान सरकार ने बेरोजगारों को भत्ता देने में भी कई राइडर्स लगा रखे हैं। इन्हें जल्द ही समाप्त किया जाना चाहिए। ताकि प्रदेशभर के बेरोजगारों को राहत मिल सके।

नौकरियों में राजस्थान के छात्रों को मिले आरक्षण
रविंद्र ने कहा कि राजस्थान में भी हरियाणा की तर्ज पर नौकरियों में राजस्थान के युवाओं को 75% आरक्षण दिया जाना चाहिए। ताकि राजस्थान के युवाओं को समय रहते रोजगार मिल सके। पिछले कुछ वक्त से बाहरी राज्यों के युवा राजस्थान में आकर नौकरी कर रहे हैं। इससे यहां के युवाओं को नौकरी नहीं मिल पा रही है। ऐसे में सरकार को राजस्थान के युवाओं के लिए नौकरियों में आरक्षण कानून लागू करना चाहिए। इसके साथ ही सरकारी नौकरियों में जनरल कास्ट के 50% कोटे में भी अब बाहरी राज्यों के युवा भर्ती हो रहे हैं। जिस पर रोक लगनी चाहिए। ताकि राजस्थान के हर वर्ग को नौकरी मिल सके। इसके साथ ही राजस्थान में लंबित भर्ती प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरी होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...