पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आचार्य प्रमोद ने आंदोलन के लिए CM को जिम्मेदार ठहराया:बेरोजगारों के धरने पर बोले- अपनी मुसीबत प्रियंका गांधी के गले में डालना उचित नहीं

जयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आचार्य प्रमोद और सीएम अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

राजस्थान के बेरोजगारों का विरोध अब सियासी रंग लेने लगा है। इस आंदोलन के लिए कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है। आचार्य प्रमोद ने ट्वीट कर खुद की मुसीबत को प्रियंका गांधी के गले में डालने का आरोप भी लगाया।

आचार्य प्रमोद ने ट्वीट किया है- यूपी कांग्रेस मुख्यालय के बाहर धरना दे रहे राजस्थान के बेरोजगारों से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी को तत्काल बातचीत कर समस्या का समाधान निकालना चाहिए। अपनी मुसीबत को प्रियंका गांधी जी के गले में डाल देना उचित नहीं है। बेरोजगार आचार्य प्रमोद के ट्वीट को रिट्वीट कर मुख्यमंत्री से जल्द समाधान की मांग कर रहे हैं।

आचार्य प्रमोद का ट्वीट।
आचार्य प्रमोद का ट्वीट।

राजस्थान के बेरोजगार पिछले 5 दिनों से उत्तर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के बाहर अपनी 22 सूत्री मांगों को लेकर अनशन पर बैठे हैं। बेरोजगारों का कहना है कि कांग्रेस सरकार ने राजस्थान में उनके साथ वादाखिलाफी की है। ऐसे में वह कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मिल अपनी समस्या का समाधान चाहते हैं।

राजस्थान एकीकृत बेरोजगार महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि राजस्थान कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों से वादे तो किए, लेकिन उन्हें अब तक पूरा नहीं किया। ऐसे में मजबूरन बेरोजगारों को कड़ाके की ठंड में उत्तर प्रदेश में विरोध करना पड़ रहा है। उपेन ने कहा कि जिस दिन राजस्थान की सरकार बेरोजगारों से लिखित समझौता कर लेगी, हमारा अनशन उसी वक्त खत्म हो जाएगा। अगर सरकार ने ऐसा नहीं किया, तो आने वाले चुनाव में कांग्रेस को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।