पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बुजुर्ग और बच्चों पर कोरोना अटैक:23 दिन में 129 मामले, 51मरीज की उम्र 50 से ज्यादा; 20 साल तक के 22 बच्चे संक्रमित

जयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तीन महीने बाद अब राजस्थान में एक बार फिर से कोरोना के मरीज बढ़ने लग गए है, लेकिन इस बार सबसे ज्यादा संक्रमित बुजुर्ग और बच्चे आ रहे हैं। कुल मरीज में से 70 फीसदी मरीज ऐसे हैं, वैक्सीन की दोनों डोज लग चुगी है, जबकि नवंबर में अब तक मिले 129 संक्रमित में से 51 मरीज वे हैं, जिनकी उम्र 50 से ज्यादा है और उन्हें भी वैक्सीन लग चुकी है।

दरअसल, मंगलवार को भी प्रदेश में 21 अगस्त के बाद एक ही दिन में 23 मरीज सामने आए। इससे पहले सुबह एक निजी स्कूल के 12 बच्चों में कोरोना की पुष्टि हुई। जयपुर सीएमएचओ डॉ. नरोत्तम शर्मा के मुताबिक इन 51 संक्रमित में से 70 फीसदी मरीज ऐसे है, कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि इनके अलावा 30 से 50 साल की एज ग्रुप के 31 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं, इनमें सभी वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगवा चुके हैं। डॉ. शर्मा ने बताया कि जितने भी मरीज अब तक जयपुर में मिले हैं, सभी के परिवारों के सैंपल लेकर उनकी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। उन्होंने बताया कि हम जल्द ही स्कूलों में भी रेंडम सैंपलिंग शुरू करवाएंगे, ताकि पता चल सके कि स्कूलों में आने वाले बच्चे कोरोना से संक्रमित तो नहीं है।

इधर SMS अस्पताल के पूर्व अधीक्षक डॉक्टर वीरेन्द्र सिंह का कहना है कि जो व्यक्ति कोरोना वैक्सीन लगवा चुके हैं, ऐसा नहीं है कि वे व्यक्ति कोरोना से संक्रमित की चपेट में आने से बच जाएंगे। ऐसे व्यक्तियों में इम्युनिटी विकसित होने से उनमें कोरोना से गंभीर बीमार होने या मौत होने से बचने की संभावना ज्यादा रहती है।

अब तक 22 बच्चे संक्रमित
नवंबर में कोरोना से जयपुर में नवंबर में 22 बच्चे संक्रमित हुए हैं। इसमें 16 बच्चे तो तीन प्रतिष्ठित स्कूल के हैं, जिसमें से एक स्कूल को तो 7 दिन के लिए बंद करना पड़ा है। वहीं दो अन्य स्कूलों में भी बच्चे संक्रमित आएं हैं, लेकिन उन स्कूलों को बंद नहीं किया गया। जयपुर के चौमू क्षेत्र में रहने वाले एक ढाई साल के बच्चे की तो कोरोना से पिछले दिनों जान चली गई।

92 फीसदी लोगों को लग चुकी है एक डोज
जयपुर की बात करें तो यहां 18 या उससे ज्यादा आयु के 50 लाख 8281 लोगों को वैक्सीनेट किया जाना है। इनमें से अब तक 46 लाख 26,790 से ज्यादा लोग (92 फीसदी) ऐसे है, जिनको वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग चुकी है। वहीं 46 लाख 26,790 लोगों में से आधे लोग वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके है।