पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47184-1.49 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62935-0.03 %

स्कूल अनलॉक:पहले दिन कम स्टूडेंट्स पहुंचे, कई स्कूलों में कम कमरों के कारण टूटा सोशल डिस्टेंस

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हिंडौन सिटी| राज्य सरकार के निर्देश पर 6से 8वीं के विद्यालय खुलने पर राउमावि में पहले दिन छात्र -छात्राओं ने कोविड -19 एडवाइजरी की पालना करते हुए अध्ययन किया। - Money Bhaskar
हिंडौन सिटी| राज्य सरकार के निर्देश पर 6से 8वीं के विद्यालय खुलने पर राउमावि में पहले दिन छात्र -छात्राओं ने कोविड -19 एडवाइजरी की पालना करते हुए अध्ययन किया।
  • 7 महीने बाद खुले कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूल, गेट पर हाथ सेनेटाइज कराने के बाद दिया प्रवेश

सरकार की नई गाइड लाइन के अनुसार सोमवार से कक्षा 6 से आठवीं तक के स्कूल खुल गए। पहले दिन सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या ना के बराबर देखने को मिली। जो बच्चे स्कूलों में आए उनके चेहरों पर खुशी देखी गई। सरकार ने 20 सितंबर से कक्षा 6 से आठवीं व 27 सितंबर से कक्षा एक से पांचवीं तक के स्कूलों का संचालन करने की अनुमति जारी की थी। पहले दिन स्कूलों में बच्चों की संख्या कम रहने पर अध्यापकों का कहना था कि काफी समय के बाद स्कूल खुले हैं तो बच्चों में भी धीरे-धीरे स्कूल आने का सिलसिला जारी होगा।

कई स्कूलों में कमरों की संख्या कम और विद्यार्थियों की संख्या अधिक होने से अध्यापकों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।सुबह 10:30 बजे ट्रक यूनियन राबाउप्रावि में सात बच्चे खेलते मिले। संस्था प्रधान बीना मीना व एक अन्य अध्यापिका मौजूद थी। संस्था प्रधान मीना ने बताया कि विद्यालय में कक्षा 6 से 8वीं तक 51 व कक्षा एक से 5वीं तक 87 बच्चे नामांकित हैं। इनके बैठने के लिए कमरे कम हैं। चार कमरों में रसोई, संस्था प्रधान का कक्ष, स्टोर व एक कमरे में पुस्तकें रखी हुई हैं। नामांकित बच्चों से विद्यालय में उपस्थित होने के लिए संपर्क कर रही हैं।

सुबह 10:35 पर राउप्रावि नं. 7 में एक कक्ष में कक्षा 6 के 4 व कक्षा 7 के 3 बच्चे पढ़ रहे थे। यहां कक्षा एक से 5वीं तक 127 और कक्षा 6 से 8वीं तक 92 बच्चों का नामांकन है। कक्षा कक्ष 4 ही हैं। अध्यापकों के मुताबिक पढ़ाने में परेशानी आएगी। बच्चों को बरामदों में बैठाने की व्यवस्था की जाएगी। अधिक से अधिक बच्चे व उनके अभिभावकों से संपर्क कर विद्यालय में आने के लिए कहा जा रहा है। राउप्रावि नं. 8, राबापू उप्रावि करौली सहित कई स्कूलों की भी यही स्थिति देखने को मिली यहां एक दो बच्चों के अलावा कुछ अध्यापक बैठे मिले।

उच्च प्राथमिक स्कूलों में कक्षाओं का नियमित संचालन शुरू

हिंडौनसिटी (ग्रामीण) | सरकार के आदेश के बाद सोमवार से स्कूलों में उच्च प्राथमिक स्तर की कक्षाओं का संचालन शुरू हुआ। शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने भी कई स्कूलों में पहुंचकर व्यवस्थाओं का औचक निरीक्षण किया। जहां सोशल डिस्टेंस की पालना सुनिश्चित करने व अभिभावकों की सहमति के निर्देश दिए। ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी कैलाश चंद मीणा व अतिरिक्त ब्लॉक शिक्षा अधिकारी दयाल सिंह सोलंकी ने बताया कि हिंडौन ब्लॉक में 56 उच्च माध्यमिक स्तर के विद्यालय हैं। 20 माध्यमिक स्तर के 83 उच्च प्राथमिक स्तर के और 131 प्राथमिक स्तर के विद्यालय हैं। सरकार के आदेश के बाद अब उच्च प्राथमिक स्तर के विद्यालयों में कक्षाओं का संचालन शुरू कर दिया गया है। फिलहाल प्राथमिक स्तर की कक्षाओं का संचालन शुरू नहीं हो सका है। हिंडौन ब्लॉक के 290 विद्यालयों में 57904 विद्यार्थी पंजीकृत है। जिनमें 28258 छात्र और 29 646 छात्राएं हैं। इन स्कूलों में प्रारंभिक शिक्षा के 833 कार्मिक नियुक्त हैं। स्कूलों में नियमित कक्षाओं का संचालन शुरू कर दिया है।

पटरी पर लौटने लगी शिक्षण व्यवस्था नारौलीडांग/खेडला | शिक्षण व्यवस्था पटरी पर लौटने लगी है। सोमवार से कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूल खुल गए। पहले दिन बच्चों की संख्या बहुत कम रही, लेकिन जो भी बच्चे स्कूल पहुंचे, उनके चेहरों पर स्कूल आने की खुशी साफ नजर आ रही थी। महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल नारौली डांग में कक्षा 6 से 8वीं तक 105 में से 30 बच्चे उपस्थित रहे। उप्रावि रानेटा में कक्षा 6 से 8वीं तक 25 में से 11 बच्चे उपस्थित रहे।कैलादेवी ग्रामीण। ग्राम पंचायत लोहर्रा के राउमावि की कक्षाओं में बिना सोशल डिस्टेंसिंग एवं बिना मास्क के छात्र-छात्राएं स्कूल आ रहे हैं। विद्यालय प्रबंधन की ओर से न तो कोई सैनिटाइजर की व्यवस्था है और ना ही विद्यालय स्टाफ एवं बच्चों के पास मास्क उपलब्ध थे।

खबरें और भी हैं...