पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कन्हैयालाल की निर्मम हत्या से लोगों का फूटा गुस्सा:सर्व समाज ने किया विरोध प्रदर्शन, युवाओं ने कहा-अब प्रशासन से कोई उम्मीद नहीं

चित्तौड़गढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कन्हैया लाल की निर्मम हत्या को लेकर लोगों का फूटा गुस्सा। - Money Bhaskar
कन्हैया लाल की निर्मम हत्या को लेकर लोगों का फूटा गुस्सा।

उदयपुर में हुई कन्हैयालाल की निर्मम हत्या के मामले में लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। बड़ी संख्या में सर्व समाज के लोग बुधवार को कलेक्ट्रेट पहुंचे और विरोध जताकर खूब नारेबाजी की। जिले में लगाई धारा 144 के प्रतिबंध भी भीड़ को रोक नहीं पाए। सर्व हिन्दू समाज ने कलेक्ट्रेट के बाहर रोड पर मानव शृंखला बनाकर विरोध-प्रदर्शन किया। वहीं, लोगों का गुस्सा देखकर पुलिस ने भी प्रदर्शन को रोकने की कोई कोशिश नहीं की।

विधायक चंद्रभान सिंह आक्या ने कहा कि जिहादियों ने जिस तरह से हत्या की है वो निंदनीय है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी पूरी तरह फेल हैं। उन्हें अब यूपी की पद्धति अपना लेनी चाहिए जहां इस तरह की गलती करने वालों के घर पर बुलडोजर चलना चाहिए या फिर फांसी की सजा देनी चाहिए। प्रोटेक्शन मांगने के बावजूद भी किसी आम आदमी को प्रोटेक्शन नहीं दिया जाता, यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।

कलेक्ट्रेट में सर्व समाज ने आक्रोशित होकर किया विरोध प्रदर्शन।
कलेक्ट्रेट में सर्व समाज ने आक्रोशित होकर किया विरोध प्रदर्शन।

प्रशासन से नहीं है कोई उम्मीद

वहीं, बजरंग दल के जिला संयोजक जगदीश मेनारिया ने कहा कि कांग्रेस सरकार को भी सिर्फ अपनी सरकार से मतलब है और किसी से नहीं। कन्हैया लाल ने प्रोटेक्शन मांगी तब उसे पुलिस प्रोटेक्शन नहीं दिया गया। आगे ऐसी और कोई घटना होती है तो हमें प्रशासन से सहयोग की कोई उम्मीद नहीं है।

सड़क पर मानव श्रंखला बनाकर की नारेबाजी।
सड़क पर मानव श्रंखला बनाकर की नारेबाजी।

कलेक्ट्रेट बना छावनी

भीड़ को देखकर मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद रहा। मौके पर कोतवाली, सदर, चंदेरिया पुलिस के अलावा, एसटीएफ, एमबीसी, रिजर्व पुलिस बल मौजूद रहा। पूरा कलेक्ट्रेट छावनी बन चुका था। हालांकि युवाओं का गुस्सा देखकर पुलिस ने भी उन्हें रोकने की कोशिश नहीं की लेकिन जाब्ता अलर्ट रहा।

इस दौरान मौके पर पुलिस जाब्ता रहे मौजूद।
इस दौरान मौके पर पुलिस जाब्ता रहे मौजूद।