पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कांग्रेस विधायक को गोली मारने की धमकी:MLA बिधूड़ी से वसूली कर बड़ा डॉन बनना चाहता था आरोपी

चित्तौड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बेगूं से कांग्रेस विधायक राजेन्द्र सिंह बिधूड़ी एक बार फिर चर्चा में है। अब उनको जान से मारने की धमकी मिली है। धमकी देने वाले ने कहा- एक महीने में गाेली मार देंगे। बिधूड़ी ने सोमवार रात धमकी से जुड़ी जानकारी मीडिया को बताई। पुलिस ने आज धमकी देने वाले आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में बताया कि, वह डॉन बनना चाहत है, इस कारण विधायक को धमकी दी।

बिधूड़ी ने कहा- जब राजस्थान में MLA सुरक्षित नहीं है तो आम जनता कैसे सुरक्षित होगी। पहले भी धमकी मिली, लेकिन चित्तौड़ पुलिस और सरकार ने कुछ नहीं किया। अब अगर दो दिन में कार्रवाई नहीं हुई तो CM ऑफिस के बाहर धरना दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सोमवार शाम 7:40 बजे उन्हें धमकी भरा कॉल आया। करीब 48 सेकेंड बात कर धमकी देने वाले ने एक महीने में गोली मारने की बात कही है। फोन करने वाले ने कहा- पारसोली थाने की बहुत शिकायत कर रहे हो, इसीलिए गोली मार देंगे।

तीन महीने से मिल रही धमकी
बेगूं विधायक ने बताया- पहले भी सोशल मीडिया पर कोटा का लाला गुर्जर लगातार धमकियां देता है। इसकी शिकायत तीन महीने पहले कर चुका हूं, लेकिन न सरकार कुछ करती है और न चित्तौड़ की पुलिस। जब एक MLA सुरक्षित नहीं है तो राजस्थान की जनता कैसे सुरक्षित होगी। मैं तो जनप्रतिनिधि हूं, मुझे तो निकलना ही पड़ेगा।

जान को कुछ हुआ तो, सरकार की जिम्मेदारी
विधायक का कहना है कि पारसोली थाने से चोरी हुए डोडा-चूरा के मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर यह धमकियां मिल रही है। पारसोली थाने से डोडाचूरा चोरी हो गया था। उस मामले में पुलिस ने सिर्फ खानापूर्ति की। पुलिस के मिलीभगत के बिना थाने से एक सुई तक गायब नहीं हो सकती। कितने महीनों से कार्रवाई की मांग कर रहा हूं।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा रावतभाटा में कई अवैध कब्जे हैं, जिनको हटाने का प्रयास किया तो उनको भू-माफियाओं ने भी जान से मार डालने की धमकी थी। अगर उनकी धमकियों के बाद अगर कुछ होता है तो इसके जिम्मेदार सरकार, चित्तौड़गढ़ पुलिस और भू-माफिया होंगे।

CM ऑफिस के बाहर धरने की चेतावनी
विधायक ने रावतभाटा थाने में FIR दर्ज करवा दी है। उन्होंने कहा कि अभी अगर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो दो दिन बाद CM ऑफिस के बाहर धरना दिया जाएगा। रावतभाटा थाना अधिकारी मदन लाल ने बताया कि विधायक के शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

बड़ा डॉन बनने के लिए विधायक को दी धमकी
इधर, पुलिस ने विधायक की रिपोर्ट के बाद तीन टीमों का गठन किया। संदिग्ध का मोबाइल लोकेशन निकाला गया। जिसके आधार पर भीलवाड़ा, कोटा और एमपी की तरफ तीनों टीमों को रवाना किया गया। संदिग्ध जगहों पर दबिश देकर आरोपी राजसमंद के रहने वाले दीपक (20) पुत्र मांगीलाल प्रजापत को गिरफ्तार किया गया। नंबर ट्रेस करने पर उसके भीलवाड़ा होने की जानकारी मिली थी। इस पर पुलिस टीम ने आरोपी को गंगापुर, भीलवाड़ा से डिटेन कर रावतभाटा थाना लाए। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि यूट्यूब पर देवा गुर्जर मर्डर का वीडियो देखकर उसमें जोश आ गया था। वह भी बड़ा डॉन बनना चाहता था, इसीलिए कॉल कर बेगूं विधायक को कोटा से उठाकर जान से मारने की धमकी दे रहा था। उससे वसूली कर डॉन बनना चाहता था। आरोपी दीपक आइसक्रीम की दुकान पर मजदूरी करता है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।