पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • For 1.5 Crore Students Of The State, The Education Department Has Reduced The Syllabus By Thirty Percent, The Revised Syllabus Will Be Released In A Day Or Two.

राजस्थान में कम किया गया 30% सिलेबस:बोर्ड ने क्लास 12वीं कक्षा तक के सभी विषयों में पाठ्यक्रम को कम कर दिया, एक-दो दिन में संशोधित सिलेबस होगा जारी

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्कूलों में पढ़ाई शुरू होने के बाद बढ़ रही बच्चों की संख्या।

कोरोना काल के चलते शिक्षा विभाग ने लगातार दूसरे साल सिलेबस में कटौती कर दी है। इस बार उन्हीं चैप्टर्स को हटाया गया है, जो अब तक नहीं पढ़ाए गए। साथ ही हर चैप्टर के क्रम का भी ध्यान रखा गया है। पिछले साल की गलतियों को नहीं दोहराते हुए स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (SIERT) उदयपुर और माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर ने सिलेबस में संशोधन किया है। शिक्षा निदेशालय इन दोनों के बीच समन्वय का काम कर रहा है।

शिक्षा निदेशालय से मिली जानकारी के अनुसार उदयपुर के SIERT ने क्लास एक से आठ और अजमेर के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने क्लास नौ से बारह तक का सिलेबस कम कर दिया है। दोनों की तरफ से अलग-अलग आदेश जारी करके संशोधित सिलेबस जारी किया जाएगा। एक-दो दिन में ही संशोधित सिलेबस स्कूल तक पहुंचाने के आदेश जारी हो सकते हैं। रीट परीक्षा की तैयारी के चलते इन दिनों बोर्ड चैयरमेन व्यस्त चल रहे हैं, इसी कारण संशोधित कार्यक्रम सार्वजनिक नहीं किया गया।

बोर्ड ने क्लास 9 से 12 तक के सभी विषयों में 30 परसेंट पाठ्यक्रम कम कर दिया है। ये ध्यान रखा गया है कि शुरुआती पाठ्यक्रम नहीं हटाए जाएं। इसी के साथ चैप्टर का क्रम ध्यान में रखा गया है। फिजिक्स और केमेस्ट्री में एक चैप्टर किए बगैर दूसरे चैप्टर का उपयोग नहीं है। ऐसे में इन्हें हटाने से पहले विशेषज्ञों से राय ली गई है। इसी तरह क्लास एक से आठ तक के वो ही चैप्टर हटाए गए हैं, जो शिक्षा विभाग की ओर से ऑनलाइन एजुकेशन में पढ़ाए नहीं थे। स्माइल योजना में जो चैप्टर नहीं पढ़ाए गए थे, उन्हें ही हटाया जा रहा है। माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी लगातार सिलेबस संशोधन पर नजर रखे हुए हैं।

अब शुरू हो गए स्कूल
क्लास 6 से 12 तक के स्कूल शुरू हो गए हैं, लेकिन सिलेबस में संशोधन अब तक नहीं होने से टीचर्स को चिंता है कि कहीं वो चेप्टर न हट जाए, जिन्हें पढ़ाया जा रहा है। हालांकि निदेशालय ने टीचर्स को क्रम से ही चैप्टर पढ़ाने के निर्देश दिए हैं, ताकि संशोधन के बाद दिक्कत नहीं हो। क्लास एक से पांच तक की ऑफलाइन क्लासेज भी 27 सितंबर से शुरू हो जाएगी। इन क्लासेज को भी ऑनलाइन पढ़ाया जा रहा है। यहां भी सिलेबस को लेकर असमंजस अभी बना हुआ है।

खबरें और भी हैं...