पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पत्नी ने झगड़ा किया, पता चला रूस में दूसरी पत्नी:पति के साथ जाने की जिद की, शादी और बच्चे के फोटो दिखा बोला: मैंने दूसरी शादी कर ली

बाड़मेर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शादी के 12 साल बाद भी पति अपनी पत्नी को रूस (मास्को) नहीं ले गया। पति जब भी गांव आता पत्नी जिद करती। अगली बार ले जाने की बात कहकर मना देता। 2 साल पहले जब पति आया तो साथ ले जाने की बात पर झगड़ा हो गया। गुस्से में पति ने बता दिया कि वह रूस में दूसरी शादी कर चुका है और दो बच्चे भी है। इस झगड़े के बाद पति दोबारा रूस चला गया। इधर, दो साल से पत्नी 10 साल के बेटे के साथ इंतजार कर रही है। अब जब मामला बनते नहीं बैठा तो एसपी के पास पहुंची। महिला ने एसपी से गुहार लगाई है कि उसके पति का वीजा आगे नहीं बढ़ाया जाए। वहीं महिला थाने में भी पति और ससुराल वालों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

मामला बाड़मेर का है। दीपिका की शादी 1 सितंबर 2009 को जोधपुर निवासी भगवानदास के साथ हुई थी। शादी के चार साल तक दोनों के बीच अच्छे रिलेशन थे। इस दौरान बेटे को जन्म भी दिया,जिसकी अभी 10 साल की उम्र है। 2014 भगवानदास कपड़े का बिजनेस करने मास्को चला गया। रिपोर्ट में बताया कि पति के मास्को जाने के बाद सास, देवर, ननद और जेठ उसे परेशान करने लगे। दहेज की मांग करते। जब यह बात दीपिका ने अपने पिता को बताई तो वह उसे बाड़मेर ले आए।

2016 में पति भगवानदास के वापस भारत आने के बाद दीपिका को जोधपुर ले गया। ससुराल वालों से समझाया। लेकिन, ससुराल वालों ने भगवानदास के वापस विदेश जाने के बाद वपास दहेज की मांग करने लगे। 2018 व 2020 में भगवानदास के भारत आने पर वापस दीपिका को जोधपुर ले गया। 2020 में दीपिका पति के साथ रूस जाने की जिद करने लगी लेकिन पति टालता रहा। इस जिद में दोनों के बीच झगड़ा हुआ और भगवान ने बता दिया कि उसने वहां दूसरी शादी कर ली है। भगवान दास ने दीपिका पर वहां की शादी और बच्चे के फोटो फेंक दिए।

एसपी दीपक भार्गव ने बताया कि पीड़िता की रिपोर्ट पर महिला थाने मे मामला दर्ज कर लिया है। पीड़िता का पति विदेश में है। ऐसे में उसे पकड़ने में दिक्कत होगी। विदेश में जाकर कोई व्यक्ति जांच करे इसका प्रावधान भी नहीं है। एनओसी जारी करवाएंगे। इससे भारत में एंट्री करते ही बाड़मेर पुलिस को सूचना मिल जाएगी।

समाज के लोगों ने ससुराल वालों को समझाया
दीपिका कहना है कि वर्ष 2020 के बाद में समाज केज लोगों ने भगवानदास व उसके परिवार के लोगों को समझाने की कोशिश भी की। लेकिन, ससुराल वाले मानने को तैयार ही नहीं थे। सामाजिक स्तर पर पंचायती चलने के बाद भी कोई हल नहीं निकला।

दीपिका पहुंची पुलिस के पास, बोलीं: वीजा नहीं बढ़ाया जाए
यह मामला सामने आने के बाद दीपिका एसपी के पास पहुंची। बताया कि मेरे पति ने मेरे साथ धोखा कर मास्को में दूसरी शादी कर ली है। मुझे और मेरे 10 साल के बच्चे को अकेला छोड़ दिया है। इसकी पढ़ाई लिखाई कर पाना मुश्किल हो गया है। उसने बताया कि अक्टूबर में भगवान का वीजा पूरा होने वाला है। दिल्ली में रिन्यू के लिए अप्लाई कर रुपए भी जमा करा दिए है। ऐसे में उसका रिन्यू रोका जाए।