पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर बंटी मिठाई:इंटरनेशनल बॉर्डर पर जवानों ने एक दूसरे को आजादी की बधाइयां दी

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भारत-पाक इंटनरेशनल बॉर्डर पर बीएसएफ ने रेंजर्स को भेंट की मिठाई।

भारत-पाक इंटरनेशनल बॉर्डर पर आजादी के पर्व पर दोनों देंशों के बीच मिठाईयों का आदान-प्रदान हुआ। बाड़मेर सीमा से लगती बीओपी पर बीएसएफ के अधिकारियों ने पाक रेंजर्स को मिठाई भेंट की। इससे एक पूर्व यानि 14 अगस्त को पाकिस्तान के आजादी के दिन रेंजर्स ने बीएसएफ को मिठाई भेंट की थी। वहीं बीएसएफ व रेंजर्स ने एक दूसरे को आजादी के पर्व की बधाई दी।

दरअसल, दोनों देशों के बीच नेशनल फेस्टिवल पर मिठाईयां आदान-प्रदान करने की परंपरा रही है। हालांकि बीच में तनाव के बाद यह परंपरा बंद हो गई थी लेकिन बीते एक साल से दोनों देशों के बीच मिठास फिर से शुरू हो गई है। तब से मिठाईयों का आदान-प्रदान फिर से शुरू हो गया है। 26 जनवरी, होली, दीपावली, ईद पर मिठाईयों का आदान प्रदान किया गया था। 14 अगस्त को पाकिस्तान की आजादी का दिन था। तब पाक रेंजर्स ने बीएसएफ को मिठाई भेंट की थी। 15 अगस्त को देश की आजादी 76वां स्वतंत्रता दिवस पर बीएसएफ के अधिकारियों ने पाक रेंजर्स को अलग-अलग तरह की स्वीट्स भेंट की। इस दौरान एक-दूसरे को आजादी के पर्व पर बधाई भी दी गई।

15 अगस्त के दिन बाड़मेर के पश्चिमी सरहद स्थित मुनाबाव, गडरा रोड, सज्जन का पार, केलनोर, सोमरार और वर्नहार सीमा से पाक रेंजर्स को बीएसएफ के जवानों ने मिठाई भेंट की। बॉर्डर पर शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण माहौल बनाने में बीएसएफ हमेशा अग्रणी भूमिका रही है। जवान ड्यूटी करने के साथ इस काम को बखूबी निभा रहे है। इससे दोनों सीमा सुरक्षा बलों के बीच सीमा पर शांतिपूर्ण माहौल और सौहार्दपूर्ण संबंध बनाने में मदद मिलती हैं। बीएसएफ एवं पाक रेंजर्स ने एक दूसरे के मध्य आपसी सौहार्द और सहयोग का भरोसा दिलाया।