पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेगिस्तान में 45 दिनों में औसत से ज्यादा बारिश:कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश, अब फसलों को नुकसान

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़मेंर शहर में तेज बारिश, कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश। - Money Bhaskar
बाड़मेंर शहर में तेज बारिश, कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश।

बाड़मेर शहर सहित ग्रामीण इलाकों में मंगलवार को तेज बारिश हुई। जिले में कहीं इलाकों में तेज बारिश तो कहीं कम बारिश हुई है। गुड़ामालानी, समदड़ी, बालोतरा, पचपदरा इलाके में बारिश का दौर चल रहा है। सुबह से आसमान में बादल छाए हुए थे। जिले में सुबह से रुक-रुक कर बारिश का दौर चल रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक आज व बुधवार को भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। मौसम एक्सपर्ट्स का कहना है कि 17 अगस्त के बाद बारिश की इस तेजी पर ब्रेक लग जाएगा। अधिकतम तापमान 32.8 डिग्री व न्यूनतम तापमान 27.7 डिग्री दर्ज किया गया है। वहीं, अब किसानों को अतिवृष्टि की चिंता भी सताने लग गई है।

दरअसल बाड़मेर में इस बार मानसून ने समय से पहले ही बारिश का कोटा पूरा कर दिया है। जिले में जून माह के आखिरी दिनों में धमाकेदार एंट्री के बाद से लगातार बारिश का दौर चल रहा है। 45 दिनों में रेगिस्तान पानी से तरबतर हो गया है। औसत से ज्यादा बारिश दर्ज हुई है। अब तक बाड़मेर में 310 एमएम से ज्यादा बारिश हो चुकी है। मंगलवार को सुबह से जिले के अलग-अलग इलाकों में बारिश का दौर चल रहा है।

शहर में सुबह से आसमान में बादल छाए हुए थे। दोपहर में अचानक काली घटाएं छा गई। अचानक बारिश का दौर शुरू हुआ जो करीब आधा घंटा तक चलता रहा। बारिश शाम तक रुक-रुक कर बारिश चलती रही। आधे घंटे की बारिश के बाद सड़कें बरसाती पानी से लबालब हो गई। लोगों को आने-जाने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं, गुड़ामालानी में सोमवार रात को व मंगलवार को सुबह भी तेज बारिश हुई है।

इस माह के आखिरी दिनों में धीमा पड़ेगा बारिश का दौर

बाड़मेर में मानसून का कोटा पूरा होने के बाद मानसून का दौर अब थोड़ा धीमा पड़ेगा। 17 अगस्त से बाड़मेर जिले में कहीं हल्की तो कहीं मध्यम बारिश हो सकती है। 18 अगस्त से अगले 2-3 दिन तक बाड़मेर में बारिश का दौर बिल्कुल धीमा पड़ जाएगा। इसके बाद तेज धूप पड़ने की संभावना है।

औसत से ज्यादा बारिश

दरअसल, मानसून का सीजन 100 दिन का माना जाता है, लेकिन इस बार डेढ़ महीने में ही औसत बारिश का आंकड़ा पूरा कर लिया। बाड़मेर में अब तक औसतन 310 MM बरसात हो चुकी है, जबकि पूरे मानसून सीजन में औसत बरसात 298MM ही होती है।