पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दलित छात्र की पिटाई से मौत पर MLAपदमाराम बोले:ऐसे आदमी को समाज में जीने का हक नहीं है

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधायक पदमाराम मेघवाल ने यह भी कहा कि ऐसे लोगों को फांसी की सजा देनी चाहिए।

जालोर जिले के सुराणा गांव में प्राइवेट स्कूल में 9 वर्षीय स्टूडेंट के साथ मारपीट व मौत मामले में बवाल लगातार जारी है। मासूम की मौत के बाद जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे है। सत्ता व विपक्ष के नेता दोषी टीचर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे है। कांग्रेस विधायक पदमाराम मेघवाल ने मारपीट करने वाले ऐसे टीचर को इस समाज में रहने का कोई हक नहीं है। ऐसा करने वाले लोगों की सोच तुच्छ है।

कांग्रेस विधायक पदमाराम मेघवाल ने कहा कि देश आजादी का अमृत महोत्सव बना रहा है। आजादी के 75 साल बाद अगर दलित स्टूडेंट के साथ मारपीट की जाती है इससे नीच आदमी को समाज में जीने का हक नहीं है। हमें उसकी कड़े शब्दों में भर्त्सना व निंदा करते है। मटकी के हाथ लगाने पर उसके साथ मारपीट की गई। सरकार से मांग करते है कि ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए और फांसी की सजा दी जाए। सीएम ने आश्वस्त किया है कि इस घटना में दोषी टीचर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

झूठी बात फैलाई जा रही है
विधायक एक सवाल के जवाब में बोले की दो बच्चे लड़ रहे थे यह झूठी बात फैलाई जा रही है। इस मासूम को बच्चे को यह जाति-धर्म के बारे में कुछ भी नहीं पता है। उसके साथ निंदनीय काम किया है। सरकार से मांग है कि ऐसे लोगों को फांसी की सजा दी जाए। इस तरह की घटना करने वाले लोगों की सोच तुच्छ होती है। ऐसे लोग भगवान के घर पर जाने की तैयारी करते है। आज 36 कौम के लोग उस टीचर का मुंह देखना नहीं चाहेंगे। हम लोग पीड़ित परिवार के साथ में है।

यह था मामला

पीड़ित परिवार का आरोप है कि 20 जुलाई को जालोर जिले के सायला थाना क्षेत्र के सुराणा गांव में प्राइवेट स्कूल के हेड मास्टर छैल सिंह ने दलित स्टूडेंट इंद्र कुमार की पिटाई की थी। इंद्र की गलती बस इतनी थी कि उसने हेड मास्टर के लिए रखी मटकी से पानी पी लिया था। 9 साल के स्टूडेंट की दाहिनी आंख और कान पर अंदरुनी चोट आईं। परिवार वाले उसे जालोर डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल ले गए, जहां से उसे उदयपुर रेफर किया गया। उदयपुर में भी कुछ दिन इलाज चला। सुधार नहीं होने पर परिवार वाले उसको अहमदाबाद ले गए, जहां इलाज के दौरान 13 अगस्त को स्टूडेंट की मौत हो गई। इधर, पुलिस ने हेड मास्टर के खिलाफ मर्डर और एससी-एसटी एक्ट में मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...