पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्वतंत्रता दिवस पर सरकारी स्कूल में परोसी अफीम; VIDEO:बच्चों के सामने ही बरामदे में दरी बिछाकर नशा करने लगे गांववाले

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वतंत्रता दिवस पर राजस्थान के सरकारी स्कूल में अफीम परोसने का वीडियो सामने आया है। वीडियो में स्कूल कैंपस साफ दिख रहा है। एक-दो स्टूडेंट भी टहलते नजर आ रहे हैं। सोमवार को ध्वजारोहण का कार्यक्रम होने के बाद गांव वाले और जनप्रतिनिधि स्कूल में ही दरी बिछाकर बैठ गए। इसके बाद डोडा पोस्त (अफीम) देने का सिलसिला शुरू हुआ। शिक्षा अधिकारियों ने मंगलवार को स्कूल खुलने पर जांच का भरोसा दिया है। मामला बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी उपखंड स्थित रावली नाडी स्कूल का है।

सोमवार को स्कूल में सुबह 8 बजे ध्वजारोहण कार्यक्रम हुआ। स्कूल के बच्चे, अभिभावक और ग्रामीण मौजूद रहे। झंडा फहराने और प्रोग्राम के बाद करीब 10-12 ग्रामीण व जनप्रतिनिधि स्कूल के बरामदे में दरी बिछाकर बैठ गए। एक-दूसरे को डोडा पोस्त (अफीम) लेने की मनवार कर पीने लगे। मौके पर सभी करीब दो घंटे तक बैठे रहे। फिर निकल गए। इसका पूरा वीडियो सामने आया है। अब शिक्षा विभाग के अधिकारियों के हाथ-पैर फूल गए। जब तक स्कूल पहुंचे, तब तक वहां से सब निकल चुके थे। स्कूल में 109 बच्चों का नामांकन है। हेड मास्टर समेत कुल 6 का स्टाफ है।

स्कूल में जब अफीम पी जा रही थी, वहां स्टूडेंट भी घूमते दिखे। ग्रामीणों से सहयोग राशि लेकर डोडा-पोस्त मंगाया गया था।
स्कूल में जब अफीम पी जा रही थी, वहां स्टूडेंट भी घूमते दिखे। ग्रामीणों से सहयोग राशि लेकर डोडा-पोस्त मंगाया गया था।

सीबीईईओ ओमप्रकाश विश्नोई ने बताया कि वीडियो सामने आने की बात संज्ञान में आया है। स्कूल पहुंचने से पहले सब लोग वहां से निकल चुके थे। मंगलवार सुबह जाकर स्टूडेंट, टीचर व अभिभावकों के बयान लिए जाएंगे। रिपोर्ट बनाकर गुड़ामालानी एसडीएम को सौंपी जाएगी।

सहयोग राशि से लाया गया डोडा-पोस्त
स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि ग्रामीणों द्वारा स्कूल में दी जाने वाली सहयोग राशि से डोडा-पोस्त लाया गया है। हालांकि इस बात की पुष्टि शिक्षा विभाग के अधिकारी नहीं कर रहे हैं। उनका कहना है कि जांच के बाद ही हकीकत सामने आएगी।

स्वतंत्रता दिवस प्रोग्राम के बाद 10-12 ग्रामीण व जनप्रतिनिधि स्कूल के बरामदे में दरी बिछाकर बैठ गए। इसके बाद अफीम बांटने का कार्यक्रम शुरू हुआ।
स्वतंत्रता दिवस प्रोग्राम के बाद 10-12 ग्रामीण व जनप्रतिनिधि स्कूल के बरामदे में दरी बिछाकर बैठ गए। इसके बाद अफीम बांटने का कार्यक्रम शुरू हुआ।

चार वीडियो आए सामने
स्कूल के चार वीडियो सामने आए हैं। वीडियो में ग्रामीण स्कूल के बरामदे में बैठे हैं। एक व्यक्ति कुर्सी पर बैठा है। रुपए लेने-देन का हिसाब कर रहा है। साथ ब्याज में जोड़ने की बात भी हो रही है। वीडियो में सरकारी टीचर रजिस्टर में वहां पर बैठे लोगों के हस्ताक्षर करवा रहे हैं।

ठंडाई पीने का दिया जा रहा तर्क
स्कूल स्टाफ और बीएलओ (ब्लॉक लेवल ऑफिसर) श्रवण का कहना है कि हम लोग करीब 11 बजे के आसपास प्रोग्राम खत्म होने के बाद निकल गए थे। इसके वीडियो सामने आने के बाद वापस स्कूल गए थे, लेकिन वहां पर कोई नहीं था। ग्रामीणों से पूछने पर ठंडाई पीने की बात कह रहे हैं।

इनपुट : रावताराम