पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Get 7 Thousand Transferred From The E friend Operator, Said That The Money Left The House, Till Then Keep The New Mobile And Paper

ठगी का नया तरीका:ई-मित्र संचालक से 7 हजार ट्रांसफर कराए, बोला पैसे घर छोड़ आया, तब तक नया मोबाइल व कागज रख लो

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CCTV में नजर आ रहा आरोपी। - Money Bhaskar
CCTV में नजर आ रहा आरोपी।

अलवर शहर में ठगी के आए दिन नित नए तरीके सामने आ जाते हैं। शनिवार देर शाम को अलवर शहर के मालवीय नगर में ई-मित्र संचालक व कंप्यूटर सेंटर संचालक से 7 हजार रुपए की ठगी मनी ट्रांसफर के नाम से कर ली। एक युवक हाथ में नया मोबाइल व कुछ कागज लेकर दुकानदार के पास पहुंचा। बोला तुरंत 7 हजार रुपए ट्रांसपफर कर दो। दुकानदार ने उसके बताए खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए। तभी युवक बोला कि मैं रुपए छोड़ आया हूं। अभी लाता हूं। तब तक मेरा ये नया फोन व डॉक्यूमेंट रख लो। बाद में युवक वापस नहीं लौटा। काफी इंतजार के बाद दुकानदार ने मोबाइल को देखा तो पता लगा नकली है। डिब्बा नया है। डॉक्यूमेंट भी कुछ नहीं है। युवक पैसे लेकर नहीं आया। तब दुकानदार को पता लगा ठगी हो गई। इसके बाद अरावली विहार थाने में पुलिस को शिकायत दी है।

ये डमी टाइप मोबाइल रख गया। जो कवर है।
ये डमी टाइप मोबाइल रख गया। जो कवर है।

मनी ट्रांसफर कर रही कई कंपनी
बाजार में कई कंपनियां मनी ट्रांसफर करती हैं। मतलब किसी के खाते में पैसे भिजवाने हैं तो आप नकद देकर भिजवा सकते हैं। ऐसा कई कंपनियां करती है। नकदी लेकर खुद के खाते से पैसा ट्रांसफर कर देते हैं। इस मनी ट्रांसफर के जरिए यह ठगी का तरीका निकाल लिया। पहले पैसे डलवाओ। कुछ महंगी चीज बता कर पैसे लाने की बात कहकर निकल जाओ। दुकानदार सजग व सावधान नहीं रहा तो ठगी हो जाती है। दुकानदार ने युवक पर विश्वास कर लिया कि नया मोबाइल रखकर जा रहा है तो पैसा वापस लेकर आएगा। लेकिन, उसे नहीं देखनेकी गलती कर दी।

अब रकम वापसी मुश्किल
यह ठगी का तरीका भी अलग है। इसमें रकम वापसी भी मुश्किल है। असल में ठग जिस खाते में पैसा ट्रांसफर करते हैं उससे तुरंत निकाल लेते हैं। इसमें समय नहीं लगाते है। अब पुलिस को शिकायत की है। लेकिन, अब तक उस खाते से निकल चुकी होगी। पुलिस का कहना है कि यह रकम ठगी का तरीका है। ऐसे ठगों से सावधान रहें। मनी ट्रांसफर करते समय पहले पैसा लें। उसके बाद ही दूसरे व्यक्ति के खाते में पैसा जमा करें। यही इससे बचने का तरीका है।