पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

काली पट्‌टी बांधकर हाथों में थामी नारों से लिखी तख्ती:आपातकाल के विराेध में भाजपा ने ढाई घंटे धरना देकर किया प्रदर्शन

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा अलवर दक्षिण की ओर से शनिवार काे 1975 में देश में लगे आपातकाल के विराेध में नगर परिषद के बाहर धरना देकर प्रदर्शन किया। जिला मुख्यालय पर नगर परिषद के बाहर महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष सुबह 9 से 11.30 बजे तक दिए धरने में पार्टी कार्यकर्ताओं ने इसे काला दिवस के रूप में मनाया और काली पट्टी बांधकर हाथाें में नारे लिखी पट्टिका लेकर विराेध जताया।

इसके बाद मीसा व डीआईआर बंदी तिलक राज गांधी, ज्ञानदेव आहूजा, रामकुमार कोली व मोतीलाल जोगी का सम्मान किया। जिला संगठन प्रभारी विष्णु चेतानी ने कहा कि 21 महीने की अवधि में देश आपातकाल घोषित कर लाेकतंत्र की हत्या की गई,

जाे स्वतंत्र भारत के इतिहास में विवादास्पद और अलोकतांत्रिक काल था। शहर विधायक संजय शर्मा ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने सरकारी मशीनरी और संसाधनों का गलत इस्तेमाल किया। ये वास्तव में हमारे देश के लोकतंत्र के माथे का काला दाग है। पूर्व विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने कहा कि आपातकाल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को प्रतिबंधित कर दिया गया।

आरएसएस ने प्रतिबंध को चुनौती दी और हजारों स्वयंसेवकों ने प्रतिबंध के खिलाफ और मौलिक अधिकारों के हनन के खिलाफ सत्याग्रह में भाग लिया। जिलाध्यक्ष संजय नरुका ने कहा कि आपातकाल में चुनाव स्थगित हो गए तथा नागरिक अधिकारों को समाप्त करके मनमानी की गई। प्रेस काे प्रतिबंधित कर दिया गया।

पूर्व विधायक बनवारीलाल सिंघल ने कहा कि आपातकाल की तरह ही अशोक गहलोत सरकार आए दिन लोकतंत्र की हत्या जैसी स्थिति ही उत्पन्न कर रही है, जिसका खामियाजा उनको उठाना पड़ेगा। प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सोहनलाल सुलानिया ने भी विचार व्यक्त किए।

कार्यक्रम संयाेजक प्रमाेद विजय ने कार्यकर्ताओं का आभार जताया। जिला मंत्री दीपक पंडित ने संचालन किया।

कार्यक्रम में किसान माेर्चा के प्रदेश काेषाध्यक्ष दिनेश भार्गव, जिला उपाध्यक्ष अशोक गुप्ता, राजेंद्र कसाना, लक्ष्मी जाटव, श्वेता जैन, जिला मंत्री जितेंद्र राठौड़, रमन गुलाटी, तरुण जैन, सुनीता सैनी, सीताराम किराड, गोरधन सिंह सिसोदिया, मनोज चौहान, डॉ. रवि यादव, राजेंद्र सैनी, हरीश अरोड़ा, सुनीता मीना, पंडित जले सिंह, चारुल अग्रवाल, श्यामसुंदर मीना, सुनील चौधरी, रामअवतार शर्मा, घनश्याम सोनी, सीताराम चौधरी, दुलीचंद सैन, कैलाश कोली, शीला जांगिड़, सुमन चौधरी, शालिनी शर्मा, रोहिताश्व घांघल, राजेन्द्र शेखावत, ओम प्रकाश शर्मा, शशि तिवारी, मधु आर्य, अंजू शर्मा, सुशीला यादव, ममता कंवर, आरती बहुगुणा आदि माैजूद रहे।

खबरें और भी हैं...