पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पति का जर्मनी में अवैध संबंध, पत्नी ने जान दी:'पापा मेरी वजह से आपको नहीं झुकना पड़ेगा, बेटी को मारने की हिम्मत नहीं, इसका ख्याल रखना'

अजमेर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक विवाहिता ने पति के अवैध संबंध और ससुराल के लोगों की यातना से परेशान होकर जान दे दी। अनुराधा नाम की महिला ने पीहर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। यह घटना अजमेर की है। वह शनिवार रात को अपनी दो साल की बच्ची के साथ घर पर अकेली थी। उसके माता पिता ससुराल में चल रही परेशानी को सुलझाने के लिए समाज के लोगों से मिलने गए थे। अनुराधा की तीन साल पहले शादी हुई। मौके पर छह पेज का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने पति पर अवैध संबंध रखने सहित पति व ससुराल पक्ष पर परेशान करने का आरोप लगाया है। यह भी लिखा, 'पापा अब आपको मेरी वजह से किसी के सामने नहीं झुकना पड़ेगा।' पुलिस मामले की जांच कर रही है।

फंदे पर लटका मिला शव

वैशालीनगर के शिव सागर कॉलोनी में रहने वाले मधुसूदन सोमानी की बेटी अनुराधा (31) ने शनिवार को संदिग्ध हालत में फांसी लगाकर जान दे दी। घर पर माता-पिता व भाई नहीं थे, केवल दो साल की बेटी अनन्या थी। परिवार घर पहुंचा तो वह फंदे पर लटकी मिली। पुलिस को सूचना दी। बाद में शव को जेएलएन अस्पताल के मॉर्च्यूरी में रखवाया। भाई सर्वेश्वर सोमानी ने मामले में क्रिश्चियन गंज थाने में शिकायत दी। सीओ(नॉर्थ) छवि शर्मा ने घटनास्थल का मुआयना करने के बाद सुसाइड नोट जब्त कर लिया है।

छह पेज का सुसाइड नोट लिखा

सुसाइड नोट में अनुराधा ने लिखा कि शादी के बाद पति उसे ससुराल छोड़कर जर्मनी चले गए। दोनों सिर्फ 6 महीने साथ रहे। ससुर गोविन्द लाल मालपानी, सास सरोज व देवर आदित्य उसको शारीरिक व मानसिक यातनाएं देते रहे। उसने पति अनिरूद्ध को जर्मनी बुलाने की बात कही तो वीजा का बहाना बना लिया। वह जैसे-तैसे जर्मनी पहुंची तो प्रेग्नेंट हो गई।

जर्मनी में प्रेग्नेंट हुई, पेट में जुड़वा बच्चे थे

जर्मनी में प्रेग्नेंट हुई तो उसकी पेट में जुड़वा बच्चे थे। डॉक्टर्स की जांच में एक बच्चा बीमार था। उसे गर्भपात करा निकलवा दिया। जर्मनी में जांच के दौरान दूसरा बच्चा बेटी होने पर ससुराल उसका भी गर्भपात करने का दबाव बनाने लगे। इसके बाद उसके पति ने उसे फिर से ससुराल किशनगढ़ भेज दिया। जहां प्रेग्नेंसी के दौरान सास-ससुर व देवर ने प्रताड़ित किया।

अनुराधा बेटी अनन्या के जन्म के बाद दूसरी बार जर्मनी पहुंची। उसे पति के अवैध संबंध का पता चला तो वह भी उसे आए दिन परेशान करने लगा। पति उसे खाना तक नहीं देता था। इस पर वह बेटी को लेकर वापस लौट आई। तब से वह माता-पिता के पास है।

दिमाग हिला देगा सुसाइड नोट

नोट के आखिर में में लिखा- 'पापा अब आपको मेरी वजह से किसी के सामने नहीं झुकना पड़ेगा। इसलिए इस दुनिया को छोड़कर जा रही हूं। अपनी दो साल की बेटी को मारने की हिम्मत मुझमें नहीं है। इसलिए उसका ख्याल रखना। पिता और समाज से अपील की कि वह उसे और उसकी दो साल की मासूम बेटी को प्रताड़ित करने वालों को सजा दिलाकर उसे न्याय दिलाएं।'