पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016:RPSC के बाहर अभ्यर्थियों ने मांगी भीख, री-शफल परिणाम जारी करने की मांग

अजमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भीख मांगते अभ्यार्थी

वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 के कैंडिडेट विगत 31 दिनों से आरपीएससी के बाहर धरना देकर अलग-अलग तरीकों से प्रदर्शन कर रहे हैं। शुक्रवार को अभ्यार्थियों ने आरपीएससी के बाहर भीख मांगने का काम किया। वहीं 4 दिनों से कुछ अभ्यार्थी भूख हड़ताल भी कर रहे हैं। सभी अभ्यर्थी री-शफल परिणाम जारी करने की मांग कर रहे हैं।

शुक्रवार को राजस्थान लोक सेवा आयोग ( RPSC ) के बाहर धरने पर बैठे अभ्यार्थियों ने भीख मांगते हुए आरोप लगाया कि 31 दिनों से आरपीएससी के बाहर अभ्यार्थी प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन आरपीएससी के किसी अधिकारी ने उनकी सुध लेना तो दूर, सीधे मुंह बात नहीं की है। अभ्यर्थियों ने कहा कि कभी उन्हें डीओपी के पत्र नहीं मिलने तो कभी राज्य सरकार से कोई आदेश नहीं आने का हवाला देकर चलता कर देते हैं।

अभ्यार्थियों ने कहा कि वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 के पात्र एवं नॉन जॉइनिंग अभ्यर्थियों के कारण विभिन्न विषयों के कई पद रिक्त रहे। जिन पर 4 सालों से एक बार भी री-शफल रिजल्ट एवं वेटिंग लिस्ट जारी नहीं की गई। राज्य सरकार ने 2 नवंबर 2021 को सभी विषयों की वेटिंग रिजल्ट निकालने के लिए आरपीएससी को निर्देश जारी किए थे। उन्होंने बताया कि 26 अप्रैल 2018 का सर्कुलर भर्ती को भी प्रभावित नहीं करता है, क्योंकि वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 का परिणाम सितंबर 2018 को जारी किया गया और नई भर्ती परीक्षा अध्यापक भर्ती 2018 का विज्ञापन 9 अप्रैल 2018 को जारी किया गया था। पुरानी भर्ती का रिजल्ट जारी होने से पहले ही नई भर्ती का विज्ञापन जारी कर दिया गया।

उन्होंने बताया कि कार्मिक विभाग की ओर से 27 दिसंबर 2021 को संशोधित सर्कुलर जारी किया गया। जिसमें स्पष्ट रुप से लिखा है कि यदि भर्ती कोर्ट में चली जाए तो नई भर्ती आ जाने के बाद भी पुरानी भर्ती की रिक्त सीटों पर वेटिंग जारी की जा सकती है। इसके बाद भी आरपीएससी ने वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 को अटका रखा है। अभ्यर्थियों ने बताया कि 19 अप्रैल 2021से आरपीएससी से कुछ दूरी पर धरना दिया जा रहा है। भीषण गर्मी में 4 दिन से भूख हड़ताल पर रहने से कमजोरी आने लगी है। लेकिन हौसला नहीं टूटा है, जब तक री- शफल परिणाम जारी नहीं हो जाता तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। अभ्यार्थियों ने शुक्रवार को अपनी मांगों को लेकर आरपीएससी के बाहर भीख मांग कर अपना विरोध जाहिर किया।