पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हड़ताल:70 रूटों पर नहीं चलीं सरकारी बसें, मंजिल पर पहुंचने को घंटों इंतजार करते रहे यात्री

संगरूर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संगरूर में नारेबाजी करते पीआरटीसी के कच्चे कर्मचारी। - Money Bhaskar
संगरूर में नारेबाजी करते पीआरटीसी के कच्चे कर्मचारी।

रेगूलर करने की मांग को लेकर पंजाब रोड़वेज, पनबस व पीआरटीसी कांट्रेक्ट वर्कर यूनियन के 300 सदस्यों ने हड़ताल की। देर रात बैठक का समय मिलने के बाद पीआरटीसी ने हड़ताल की कॉल वापस ले ली। पीआरटीसी कर्मी आज से काम पर लौटेंगे। जिस कारण बस में सफर करने वाले यात्रियों को तीन दिन तक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। हालांकि पहले दिन रविवार होने के कारण बस स्टैंड में यात्रियों की संख्या आम दिनों के मुकाबले काफी कम रही है।

परंतु सरकारी बसों का रूट 90 प्रतिशत तक बंद रहने के कारण लोगों को अपनी मंजिल तक जाने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा। प्राइवेट बसें पूरा दिन सवारियों से भरी नजर आई। संगरूर डिपू की कुल 132 बसों के चक्के जाम रहे। जिस कारण 80 रूटों में 70 रूट पर सरकारी बसें नहीं चली। ऐसे में पहले दिन संगरूर डिपू को 10लाख तक का नुकसान उठाना पड़ा है। दावा किया गया है कि पंजाब में पनबस व पीआरटीसी के 27 डिपुओं के गेट पर 8 हजार कच्चे मुलाजिम धरने पर बैठ गए है।

संगरूर बस स्टैंड में दिए गए धरने को संबोधित करते हुए पंजाब रोडवेज पनबस/ पीआरटीसी कांट्रेक्ट वर्कर यूनियन के नेता जतिंदर दीदारगढ़, डिपू प्रधान जसविंदर सिंह, सुखजिंदर धालीवाल व हरप्रीत ग्रेवाल ने कहा कि आप सरकार कच्चे कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने की बजाए उनके साथ धक्केशाही कर रही है। यूनियन की ओर से विभाग के अधिकारियों से की गई बैठक में यूनियन ने विभाग को लाभ में लाने के लिए कई तरह के सुझाव दिए थे जिस पर विभाग और सरकार ने कोई ध्यान नहीं दिया है।

विभाग की ओर से कच्चे कर्मचारियों की मांगों को हल करने का कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। कर्मचारी पिछले 10 से 15 वर्षों से ठेकेदारी की दलदल में फंसे हुए हैं। अकाली दल, कांग्रेस और आप सरकार के प्रतिनिधी उन्हें कई बार रेगुलर करने का वायदा कर चुके हैं परंतु किसी ने भी उनकी मांग को पूरा नहीं किया है। अब आप सरकार पनबस में नई भर्ती करने जा रही है। ठेकेदारी सिस्टम के अधीन युवाओं को 9100 प्रति माह पर रखने के प्रयास किए जा रहे हैं।

आज लुधियाना में सीएम से करेंगे सवाल जवाब यूनियन नेता गगनदीप भुल्लर, रणजीत गिल्ल, हरसेवक सिंह व डिंपल कुमार ने कहा कि सरकारी विभाग को बचाने व अपनी मांगो के लिए 15 अगस्त को गुलामी दिवस के रूप में मनाया जाएगा। ट्रांसपोर्ट विभाग के समूह कर्मचारी आज लुधियाना में सीएम भगवंत मान को सवाल जवाब करेंगे। मांग की गई कि पनबस व पीआरटीसी के कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया जाए। पंजाब रोडवेज पनबस व पीआरटीसी में कम से कम 10 हजार नई बसे डाली जाएं। चंडीगढ़ डिपाे में नाजायज रिपोर्ट कर रूट ऑफ किए गए कर्मचारियों को तुरंत ड्यूटी पर लगाया जाए। हर माह वेतन 5 तारीख से पहले दिया जाए।

खबरें और भी हैं...