पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नियुक्त ना होने से परेशान:आरटीओ पुडा व नगर सुधार ट्रस्ट अधिकारियों की कमी से जूझ रहे

पटियालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इन दिनाें जिले के प्रमुख सरकारी विभाग अधिकारियों की कमी से जूझ रहे हैं। रीजनल ट्रांसपोर्ट अथाॅरिटी, पटियाला अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी व नगर सुधार ट्रस्ट समेत महत्वपूर्ण प्रशासनिक पदाें पर करीब दाे महीनाें से नियुक्त नहीं की जा रही। अधिकतर पाेस्टाें पर अधिकारियों काे अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है, लेकिन अधिकारी दाे-दाे पाेस्टाें का काम एक साथ नहीं संभाल पा रहे। आरटीओ का पद करीब 3 महीने से खाली है।

आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद नगर सुधार ट्रस्ट के चेयरमैन सीट पर बैठे कांग्रेस के संत बांगा काे हटना पड़ा, पुडा की एसीए ईशा सिंघल काे एसडीसी पद पर प्रमाेट किया ताे उनका कार्यभार डीसी काे साैंपा गया है। जबकि डीसी के पास पहले ही जिला भर के विकास काम करने की जिम्मेदारी और निगरानी करना है। ये सभी अधिकारी व उनके विभाग लाेगाें से सीधे ताैर पर जुड़े हैं। विभागों में काम करवाने के लिए आ रहे लाेग अधिकारियों की कमी की बात कह लौटाए जा रहे हैं। इसी कारण जिले के विकास कार्य भी बुरी तरह प्रभावित हाे रहे हैं।

खासकर आरटीओ ऑफिस का काम प्रभावित हाे रहा है। वर्तमान आरटीओ का कार्यभार नगर निगम के जाॅइंट कमिश्नर नमन मड़कन के पास है। वे पब्लिक डीलिंग टाइम सुबह से दाेपहर तक नगर निगम में बैठते और बाद दाेपहर काे आरटीओ दफ्तर आते हैं। ज्यादातर लाेग सुबह पहले टाइम सरकारी दफ्तरों में पहुंचते हैं, ऐसे में जब अधिकारी सीट पर नहीं मिलता ताे लाेगाें काे परेशानी का सामना करना पड़ता है।

खबरें और भी हैं...