पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

ओटीएस स्कीम:रातों-रात जोड़ रहे कनेक्शन पुराना बताकर सेटलमेंट के लिए लोग कर रहे आवेदन

पटियालाएक महीने पहलेलेखक: राणा रणधीर
  • कॉपी लिंक
पानी-सीवरेज के 644 कनेक्शन रेगुलर, पैसा बचाने को अपना रहे हथकंडे - Money Bhaskar
पानी-सीवरेज के 644 कनेक्शन रेगुलर, पैसा बचाने को अपना रहे हथकंडे

10 सितंबर को वन टाइम सेटलमेंट स्कीम (ओटीएस) का नोटिफिकेशन जारी होने के बाद पांच दिनाें में (10 से 16 सितंबर) शहर के 644 वाटर सप्लाई-सीवरेज के कनेक्शन रेगुलर हो गए। इसके लिए 969 अावेदन आए थे। 325 आवेदन में टेक्निकल दिक्कत की वजह से फाइल पेंडिंग हैं। इतना ही नहीं प्रॉपर्टी टैक्स में ओटीएस स्कीम लागू होने और 30 नवंबर तक प्रॉपर्टी टैक्स में 10 फीसदी छूट के एेलान के बाद 888 लोगों ने सवा 4 लाख रुपए जमा कराकर अपना बकाया क्लियर कराया। अवैध बिल्डिंगों को रेगुलर कराने के लिए 4 दिनों में कोई भी व्यक्ति सामने नहीं आया है।

इधर निगम स्टाफ के मुताबिक अोटीएस स्कीम का साइड इफेक्ट दिखने लगा है। स्कीम उनके लिए हैं जिनके सालों से वाटर सप्लाई-सीवरेज कनेक्शन रेगुलर नहीं हुए हैं। निगम के पास सूचना पहुंच रही है कि कई कॉलोनियों में लोग अब रातों रात चोरी छुपे वाटर सप्लाई-सीवरेज के कनेक्शन ले रहे हैं और पुराना दिखाकर स्कीम के तहत रेगुलर कराने काे आवेदन कर रहे हैं। 15 से 20 हजार का खर्च सिर्फ 250 से 500 के बीच हो रहा है। ऐसे कनेक्शनों की मॉनीटरिंग नहीं हो सकती हैं, इसलिए निगम ने बिल्डिंग इंस्पेक्टरों सहित कौंसलरों को लोगों पर नजर की हिदायत दी है।

ओटीएस स्कीम का फायदा लेने आने वाले बुजुर्गों के लिए रैंप बनवाए प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच बेशक निगम के ग्राउंड फ्लोर पर हैं, लेकिन यहां तक जाने के लिए हर व्यक्ति को 6 स्टैप चढ़कर जाना पड़ता था। चूंकि अब ओटीएस स्कीम का फायदा लेने के लिए बड़ी संख्या में बुजुर्ग भी आ रहे हैं, इसलिए प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच ने इन स्टैप पर रैंप बनवाए दिए है।

रिहायशी प्लॉट
कनेक्शन रेगुलर करने के लिए प्रति कनेक्शन 200 रुपए देने होंगे। यानि की पानी व सीवेज के लिए 100-100 रुपए। 125 वर्ग गज से लेकर 250 वर्ग गज के प्लॉट तक 500 रु प्रति कनेक्शन लिए जाएंगे। प्लॉट के साइज 250 वर्ग गज के ऊपर के लिए 1 हजार रुपए प्रति कनेक्शन लेगा। यानि सीवरेज व पानी के लिए 500-500 देने होंगे।
कमर्शियल प्लॉट
प्लॉट इंस्टीट्यूशल/कमर्शियल है तो 250 वर्ग गज के लिए 1 हजार रुपए प्रति कनेक्शन, इसके ऊपर के प्लॉट के लिए 2 हजार प्रति कनेक्शन लगेंगे। सीवरेज व पानी के लिए 1000-1000 रुपए देने होंगे। मालिक को मालिकाना सबूत, आधार कार्ड के साथ साथ फीस अदा करनी होगी। कोई अतिरिक्त फीस, चार्ज आदि नहीं लगेगा।

अब नगर निगम को मिलेंगे 1.20 करोड़

अवैध कनेक्शनों से नियम के मुताबिक रोड कटिंग चार्जेज, मीटर की पासिंग, प्लंबरिंग का खर्चा और पिछले 3 सालों का पेंडिंग बिल लिया जाता तो प्रति यूनिट 15 से 20 हजार रुपए खर्चा आना था। निगम को सभी कनेक्शनों से 28 करोड़ से ज्यादा की आमदनी होनी थी, अब ओटीएस स्कीम में सिर्फ 100, 250, 500 और 1000 रुपए प्रति कनेक्शन लेने पर निगम को 1.20 करोड़ रुपए मिलेंगे।

खबरें और भी हैं...